भोपाल में 3 साल के मासूम को अगवा कर जिंदा जलाया

0

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के नजदीक के गांव बैरागढ़ चिचली एक 3 साल के मासूम का अपहरण कर लिया गया था। मासूम के अपहरण के 48 घंटे के बाद उसका जला हुआ शव बरामद किए जाने से पूरे गांव में हड़कंप मच गया। पुलिस की 5 टीमें अपहृत बच्चे की तलाश में जुटी थीं लेकिन उनकी तमाम कोशिशें उस वक़्त नाकाम हो गईं जब घर से सिर्फ 50 मीटर की दूरी पर बने एक सूने मकान में बच्चे का जला हुआ शव बरामद हुआ।

अब बिना हेलमेट के यहां नहीं मिलेगी एंट्री

यह घटना भोपाल के कोलार इलाके के गांव बैरागढ़ चिचली की है जहां रविवार शाम से एक 3 साल का मासूम बच्चा लापता हो गया था। फिलहाल इस पूरे मामले में पुलिस ने उसके पड़ोसी मुकेश सोलंकी और एक महिला को गिरफ्तार किया है और उनसे पूछताछ की जा रही है। फिलहाल अभी तक क़त्ल के पीछे के कारणों का खुलासा नहीं हो सका है। पुलिस ने अनुसार बच्चे को गद्दे में लपेट कर जिन्दा जलाया गया है।

सीता मंदिर: शिवराज सिंह के ट्वीट से गर्माया मामला

गौरतलब है कि रविवार शाम बैरागढ़ चिचली में रहने वाले विपिन मीणा के तीन साल के बेटे को अगवा कर लिया गया था। विपिन प्राइवेट काम करता है। उसका बेटा शाम को घर के बाहर खेल रहा था और शाम 7 बजे के लगभग वह लापता हो गया। शाम 7 बजे के लगभग जब विपिन का बेटा वरुण घर के बाहर खेल रहा था तभी उसके दादा नारायण मीणा घर पहुंचे। वरुण अपने दादा से टॉफी दिलाने की जिद करने लगा। दादा ने उसे 10 रुपए दिए और घर चले गए। लेकिन इसके बाद जब काफी देर तक वरुण घर नहीं पहुंचा तो घरवालों और मोहल्ले वालों ने मिलकर वरुण की खोज शुरू कर दी। काफी देर तक जब वरुण नहीं मिला तब परिजन पुलिस थाने पहुंचे और वरुण की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई।

कोलार पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज करने के बाद बच्चे की तलाश शुरू की। बताया जा रहा है कि पुलिस ने सामने वाले घर की अच्छे से तलाशी नहीं ली थी। वहीं मंगलवार सुबह प्रदेश के जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा और डीआईजी इरशाद वली बच्चे के परिजन से मिलने पहुंचे थे। रविवार को बीजेपी विधायक रामेश्वर शर्मा ने परिजन से मुलाकात कर उन्हें बच्चे को सकुशल घर लाने की पूरी कोशिश करने की बात कही थी। पुलिस ने बताया कि जिस मकान से वरुण का जला हुआ शव बरामद हुआ है वह मकान कई सालों से बंद पड़ा हुआ है। वरुण के अपहरण के बाद पुलिस ने सघन तलाशी अभियान शुरू कर दिया था और जगह-जगह नाकाबंदी कर तलाशी कर रही थी।

स्टेट बैंक के 1200 करोड़ रुपए गए पानी में  

वरुण का जला हुआ शव बरामद किए जाने के बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शोक व्यक्त करते हुए ट्वीट किया और लिखा, “भोपाल के बैरागढ़ चिचली इलाके से गायब मासूम बालक वरुण के प्रयासों के बावजूद सकुशल नहीं बच पाने की खबर बेहद दुखद,मन को द्रवित करने वाली।परिवार के प्रति मेरी शोक संवेदनाएँ। पीड़ित परिवार के साथ पूरी सरकार खड़ी है।आरोपियों को शीघ्र पकड़ने के निर्देश। किसी भी दोषी को बख़्शा नहीं जायेगा।”

Share.