website counter widget

मप्र की कांग्रेस सरकार का पहला बजट आज होगा पेश

0

लोकसभा चुनाव में भाजपानीत नरेन्द्र मोदी सरकार को ऐतिहासिक जीत प्राप्त होने के बाद गठित नए मंत्रिमंडल में निर्मला सीतारमण को वित्तमंत्री बनाया गया | 5 जुलाई को वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने मोदी सरकार (Modi government) के दूसरे कार्यकाल का पहला बजट पेश किया| बजट में गरीबी की आड़ में अमीर और गरीब सभी वर्गों पर निशाना साधा गया है। इसमें पेट्रोल (Petrol price) और डीजल (Diesel Price)  के दामों में बड़ी बढ़ोतरी हो गई है। आज 10 जुलाई को मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार भी अपना बजट पेश करेगी| प्रदेश के लोगों को कमलनाथ से विशेष उम्मीदें हैं|

News Anchor Shot Dead : न्यूज़ चैनल के एंकर की गोली मार कर हत्या

उल्लेखनीय है कि केंद्र सरकार के बजट के बाद अब प्रदेश सरकार अपना बजट पेश करने जा रही है | मध्यप्रदेश में 15 साल बाद सत्ता में आई कांग्रेस की सरकार आज बजट लेकर आ रही है| वित्तमंत्री तरुण भनोत सुबह 11 बजकर 5 मिनट पर वर्ष 2019-20 का बजट पेश करेंगे| 15 साल बाद प्रदेश में सरकार बदली है इसलिए बजट से लोगों को इस बार बहुत ज़्यादा उम्मीद है कि सरकार सबके लिए राहत लेकर आएगी| आइये जानते हैं विभिन्न वर्ग क्या चाहते हैं |

economic survey : आर्थिक सर्वेक्षण में गरीबी के मामले में मप्र 27वें पायदान पर

व्यापारी वर्ग

व्यापारी तो व्यापार में राहत की उम्मीद लगाए बैठा है| सरकार जीएसटी में राहत दे, ट्रांसपोर्टेशन चार्ज कम हो, वन विंडो सिस्टम बनाया जाए| सर्विस और वैट टैक्स के नाम का बोझ कम हो|

युवा वर्ग

नौकरियों के लिए अधिक अवसर लाने की उम्मीद लगाए बैठा है ताकि स्टूडेंट्स को पलायन न करना पड़े| शिक्षा के स्तर में सुधार कर उसे सस्ता किया जाए| हर क्षेत्र में बेरोज़गार स्टूडेंट्स के लिए कंसेशन की नीति लागू करे | इंफ्रास्ट्रक्चर को सरकार बेहतर करे| युवा पीढ़ी पर्यावरण संरक्षण के प्रति भी जागरूक है| उसका कहना है कि सरकार को पर्यावरण संरक्षण के लिए बजट रखना चाहिए|

महिलाएं

महिलाएं चाहती हैं कि रेस्टोरेंट और पार्लर सस्ता हो| सरकार पेट्रोल की कीमतों को घटाए| ज्वेलरी और कपड़े भी सस्ते हों|रोज़मर्रा के किचन स्टाफ़ को सस्ता किया जाए| महिला उद्योग को बढ़ावा देने के लिए सरकार कदम उठाए| साथ ही स्वास्थ्य के क्षेत्र में बेहतर और सस्ती सुविधाए देने के लिए नीति बनाई जाए|

देश की पहली प्राइवेट ट्रेन होगी ‘तेजस एक्सप्रेस’

बुज़ुर्गों की उम्मीद

बुज़ुर्ग और पेंशनर्स चाहते हैं कि सरकार स्वास्थ्य सेवाएं बेहतर करे| ज़रूरी दवाइयां सस्ती हों| लाचार वृद्धों को पालन पोषण पर सरकार फोकस करे| मेडिकल फैसिलिटी देने के लिए योजना बनाए औऱ फिर उसकी कड़ी मॉनिटरिंग की व्यवस्था करे| साथ ही पेंशन को बढ़ाए और समय पर दिलवाए| बुज़ुर्गों को हर फील्ड में स्पेशल रिबेट दिया जाए|

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.