website counter widget

Video : मंच से जीतू पटवारी ने कहा, मुझे अंग्रेजी नहीं आती

0

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में बीते मंगलवार को उच्च शिक्षा विभाग के एक कार्यक्रम में उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी (Jitu Patwari Not Able To Speak English) ठीक से अंग्रेजी नहीं बोल पाए| कार्यक्रम विनियामक आयोग के सभागार में आयोजित किया गया था| यूजी और पीजी के छात्रों की कम्युनिकेशन स्किल सुधारने और फर्राटेदार अंग्रेजी बोलने के लिए कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय के कैम्ब्रिज असेसमेंट ऑफ इंग्लिश विभाग के साथ एमओयू साइन हुआ है|

Indore Video viral :  इस तरह हुआ विस्फोट और ढह गई विशाल इमारत  

Jitu Patwari Not Able To Speak English Watch Video :

जिसमे जीतू पटवारी ने कहा कि “आई एम नॉट कंपलीट इन इंग्लिश” (Jitu Patwari Not Able To Speak English)| कार्यक्रम को संबोधित करने के लिए उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी जब बोलने पहुंचे तो उन्होंने कहा कि मुझे अंग्रेजी नहीं आती| फिर भी उन्होंने अंग्रेजी की चंद लाइनें बोलीं| उन्होंने कहा कि “मिस्टर विंट, दिस टाइम आई एम वेरी नर्वस| आप हिंन्दी जानते हो क्या थोड़ा बहुत ? आई एम नॉट कंपलीट इन इंग्लिश|मैं बैठे-बैठे सोच रहा था कि कोई केम्युनिकेट भी करो भाई कि मिस्टर विंट क्या कह रहे हैं|”

उन्होंने कहा (Jitu Patwari Not Able To Speak English) कि अब जैसी स्थिति मेरी है वैसी ही प्रदेश के छात्रों की भी होती होगी| बता दें कि लियाम विंट कैम्ब्रिज एसेसमेंट इंग्लिश के ग्लोबल नेटवर्क के उप निदेशक हैं| आयुक्त राघवेन्द्र सिंह ने जीतू पटवारी की कही बात को मिस्टर विंट को अंग्रेजी में ट्रांसलेट कर बताया| अंत में जीतू पटवारी इतना ही बोल पाए कि “सो, थैक्स एंड वेलकम| आपका बहुत-बहुत स्वागत है|

56 दुकान से खाना आर्डर करने के लिए MOBILE APP तैयार 

जय हिंद जय भारत|” मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव 2018 में दिए गए हलफनामे (affidavit) के मुताबिक जीतू पटवारी ने साल 1994 में बीए और 1997 में एलएलबी ऑनर्स की पढ़ाई इंदौर के आर्ट एंड कॉमर्स कॉलेज से पूरी की है| उच्च शिक्षा विभाग के आयुक्त राघवेन्द्र सिंह ने बताया कि प्रदेशभर के 300 शिक्षकों को तीन महीने की ट्रेनिंग दी जाएगी| इसके बाद सभी सरकारी विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों में इच्छुक छात्रों को अंग्रेजी सिखाई जाएगी|

कार्यक्रम के बाद मंत्री जीतू पटवारी ने ट्वीट कर लिखा कि पायलेट प्रोजेक्ट के तौर पर 11 जिलों के करीब 200 शिक्षक और 2 हजार विद्यार्थियों को प्रशिक्षित किया जाएगा| विश्वविद्यालय अपने छात्रों के लिए कई तरह की परीक्षाएं और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मान्य बिजनेस इंग्लिश सर्टिफिकेट (बीईसी) प्रदान करने में सक्षम होंगे| उन्होंने लिखा था कि अंग्रेजी भाषा कौशल विकसित करने और रोजगार क्षमता बढ़ाने में मददगार साबित होगी|

सड़क हादसे में SDO, उनकी पत्नी तथा दोनों बच्चों की मौत

कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय के साथ 2 वर्ष के लिए किए गए एमओयू से विश्वविद्यालयों के शिक्षकों और विद्यार्थियों को प्रशिक्षित किया जाएगा| सभी परीक्षाएं कॉमन यूरोपियन फ्रेमवर्क ऑफ रिफ्रेंस से जुड़ी हैं, जो भाषा के मूल्यांकन का एक वैश्विक मानक है| इससे विद्यार्थियों को निजी क्षेत्र में बहु-राष्ट्रीय कंपनियों और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर रोजगार के अधिक अवसर प्राप्त हो सकेंगे|

Summary
Review Date
Author Rating
51star1star1star1star1star
ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.