website counter widget

यात्रीगण कृपया ध्यान दे प्रदेश में मेट्रो के बाद दौड़ेगी रेपिड ट्रेन

0

इंदौर के बाद अब प्रदेश की राजधानी भोपाल में मेट्रो के अलावा रैपिड रेल (Rapid Rail) के संचालन की संभावनाओं को तलाशा जा रहा है। भविष्य की परिवहन सुविधा को देखते हुए इंदौर से देवास, पीथमपुर व उज्जैन तक संचालन का निर्णय लिया है। जल्द ही इसके लिए विभाग द्वारा काम शुरू किया जाएगा। यह बात नगरीय विकास एवं आवास मंत्री जयवर्धन सिंह(Urban Development and Housing Minister Jayawardhan Singh) ने एक बातचीत के दौरान कही है। मुख्यमंत्री कमलनाथ (Chief Minister Kamal Nath) के जन्मदिन पर सभी मंत्रियों को अपने विभाग की उपलब्धियों को बताने का निर्देश दिया गया है। इस संबंध में नगरीय विकास एवं आवास विभाग की योजनाओं को मंत्री जयवर्धन सिंह ने साझा किया। उन्होंने बताया कि शहरी विकास के लिए जरूरी मेट्रो पर सरकार द्वारा तेजी से काम किया जा रहा है। साथ ही इंदौर के अलावा पहले चरण में भोपाल में भी रैपिड रेल संचालन को लेकर प्लानिंग की जा रही है।

JNU विवाद में अब हिन्दू महासभा की एंट्री, दिया विवादित बयान

मास ट्रांस्पोर्ट सिस्टम में बीआरटीएस, मेट्रो व रेपिड रेल (Rapid Rail) प्रमुख हैं। इसमें मेट्रो व रेपिड रेल में ज्यादा अंतर नहीं होता। मेट्रो रेल संचालन शहर के अंदर उपयुक्त माना जाता है। इसमें स्टेशनों के बीच बहुत ज्यादा दूरी नहीं होती। इसके उलट रेपिड रेल का संचालन उन स्थानों के लिए बेहतर माना जाता है जिनमें दूरी अधिकतम होती है। इसी वजह से इंदौर से पीथमपुर, देवास व उज्जैन में रेपिड रेल के संचालन का निर्णय लिया गया है। नगरीय विकास एवं आवास विभाग के अधिकारियों ने बताया कि रेपिड रेल की रफ्तार मेट्रो से अधिक होती है। दो स्टेशनों के बीच कम समय में सफर के लिए रेपिड रेल(Rapid Rail) को देश के कई शहरों ने चुना है। इसकी एक विशेषता यह भी है कि पूर्व प्लानिंग के आधार पर मेट्रो ट्रेक पर ही रेपिड रेल का संचालन किया जाना भी संभव है।

Jio यूजर्स के लिए बुरी खबर, मुकेश अंबानी लिया ये बड़ा फैसला

मंत्री जयवर्धन सिंह ने बताया कि मेट्रो का विस्तार अन्य शहरों तक किया जा रहा है। राजधानी में मंडीदीप, औबेदुल्लागंज जैसे रूट शामिल हैं। इसलिए इस एरिया को सेटेलाइट टाउन में बदलने के लिए ग्रामीण विकास विभाग से चर्चा की जा रही है। उधर, मेट्रोपॉलिटन एरिया को लेकर भी नगरीय विकास एवं आवास विभाग ने कवायद तेज कर दी है। उन्होंने बताया कि भोपाल व इंदौर में मेट्रो चलाने के लिए विदेशी बैंकों से कर्ज को लेकर दिल्ली में बैठक हुई थी। इसलिए जल्द ही आगामी टेंडर की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

किसानों की आत्महत्या के लिए भाजपा जिम्मेदार!

-Mradul tripathi

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.