बिलख उठी मां, जब बच्ची ने कही यह बात

0

मध्यप्रदेश के मंदसौर में बच्ची के साथ हुए दुष्कर्म के बारे में जानकर हर कोई स्तब्ध था| शहर के सरस्वती शिशु मंदिर में पढ़ने वाली बच्ची को छुट्टी के बाद स्कूल गेट से आरोपी इरफ़ान अपने साथ ले गया था| अपने साथी आसिफ के साथ मिलकर इरफ़ान ने दुष्कर्म को अंजाम दिया, जिसके बाद दोनों आरोपियों ने बच्ची को लहूलुहान हालत में झाडिय़ों में फेंक दिया| दोनों आरोपियों द्वारा की गई यह करतूत अब भी पीड़ित बच्ची को अंदर ही अंदर सताती है|

बच्ची को अब भी इंदौर के एमवाय अस्पताल से छुट्टी नहीं मिली है| वह अक्सर अपने माता-पिता से पूछती रहती है कि मुझे घर जाना है, यहां अच्छा नहीं लगता, मां मुझे घर ले चलो| यह कहकर दुष्कर्म पीड़िता बार-बार रोने लगती है, लेकिन इसका जवाब कोई नहीं देता कि वह घर कब लौटेगी| बच्ची के नैनों में अश्क देखकर उसकी मां भी बिलख उठती है|

पिता ने कई बार अस्पताल से छुट्टी लेना चाहा, लेकिन बच्ची को छुट्टी नहीं दी गई, जिसके बाद कमिश्नर ने एमवाय अस्पताल प्रबंधन को फटकार लगाई| प्रबंधन ने इस बारे में चुप्पी साध ली है|

गौरतलब है कि बच्ची द्वारा बताए गए दोनों आरोपी इरफ़ान और आसिफ को पुलिस ने पकड़ा लिया था| पुलिस ने आरोपितों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने के लिए बारीकी से सबूत इकट्ठा किए हैं| दोनों आरोपितों को जेल भेज दिया गया है|

Share.