website counter widget

गीली उपज लेने से व्यापारियों का इनकार, किसान आक्रोशित

0

देश के विभिन्न राज्यों में मंगलवार शाम को अचानक बदले मौसम के कारण तबाही का मंज़र नज़र आया| इससे जहां कई मौतें हो गई तो वहीं अचानक आई बारिश से किसानों का भी काफे नुकसान हो गया| मंगलवार दोपहर हुई तेज बारिश से मंदसौर (Mandsaur Mandi Bhav) की कृषि उपज मंडी में किसानों की उपज गीली हो गई,जिसकी नीलामी करने से व्यापारियों ने मना कर दिया। इससे किसान नाराज हो गए और मंडी के बाहर पहुंचकर महू-नीमच-राजमार्ग को चक्काजाम कर दिया।

Indore Mandi Bhav : जानें इंदौर के बाज़ार भाव

हंगामे की सूचना मिलने पर पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी पहुंचे। समझाइश देकर राजमार्ग से किसानों को हटाया। इस बारे में किसानों का कहना था कि मंडी में उपज की नीलामी हो गई थी। व्यापारियों ने ढेर खरीद भी लिए थे। उसके बाद हुई बारिश से गेहूं व अन्य फसल गीली हो गई तो व्यापारियों ने उपज की तुलाई करने से मना कर दिया।

मंदसौर (mandsaur) तहसीलदार मुकेश सोनी व पुलिस बल पहुंचा और किसानों को समझाकर जाम खुलवाया। किसानों ने तहसीलदार सोनी से कहा कि मंडी में बने शेड में लंबे समय से व्यापारियों की खरीदी हुई उपज ही भरी हुई है। हमें मजबूरी में खुले में नीलामी कराना पड़ रही है। व्यापारियों की उपज शेड से हटाई जाए। किसानों ने राजमार्ग पर लकड़ी, कंटीली झाड़ियां, पत्थर रखकर जाम लगा दिया था। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची। 10 मिनट तक जाम लगा रहा। पुलिस ने जाम खुलवाया। मौके पर उपनिरीक्षक शिवांशु मालवीय, अभिषेक बौरासी आदि पहुंचे।

Mandi Bhav : गेहूं में तेज़ी, सोयाबीन नरम

तहसीलदार सोनी ने किसानों को मंडी कक्ष में ले जाकर बात सुनी और यहां व्यापारियों से भी कहा, “जिस ढेर की नीलामी हो गई है, वह तो तुलाई करना ही होगी। जिन मंडी व्यापारियों की खरीदी हुई उपज शेड में पड़ी है, वह खाली करें। किसानों की उपज भी खरीदें।“ उन्होंने मंडी प्रबंधन को शेड में व्यापारियों की उपज होने पर कार्रवाई के निर्देश दिए। व्यापारियों ने कहा कि 17 अप्रैल को ही हमारा माल शेड से हटा लेंगे।

बारिश के कारण अलसी भी पूरी तरह नष्ट हो गई। गीली होने से गोंद के समान चिपक गई। मंडी में लगभग 10 किसान अलसी लेकर आए थे। तहसीलदार सोनी ने कहा कि इसे लेकर अधिकारियों को अवगत कराएंगे। इसके बाद मंडी प्रबंधन से किसानों की उपज की नीलामी करवाने के निर्देश दिए।

Mandi Bhav : गेहूं और सोयाबीन में तेज़ी

अब 22 को होगी खरीदी

हंगामे के बाद तहसीलदार मुकेश सोनी, मंडी प्रबंधन व व्यापारियों की बैठक हुई। मौसम को देखते हुए मंडी की आगे नीलामी स्थगित कर दी गई। अब 17 अप्रैल को महावीर जयंती, 19 को गुड फ्रायडे, 20 को शब-ए-बारात व 21 अप्रैल को रविवार का अवकाश रहेगा। मंडी में अब नीलामी 22 अप्रैल से ही होगी।

तहसीलदार मुकेश सोनी ने कहा, “किसानों की उपज नीलामी होने के बाद भी व्यापारी तुलाई नहीं कर रहे थे। इसके बाद किसान नाराज़ हो गए थे। व्यापारियों को किसानों की उपज तुलाई करने को कहा है। शेड से व्यापारियों की उपज हटाने को भी कहा गया है। अलसी की उपज नष्ट हुई है। वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत करा रहे हैं। किसानों को समझाइश दी है कि अब शांतिपूर्वक उपज खरीदी होगी।“

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Summary
Review Date
Author Rating
51star1star1star1star1star
Loading...
विधानसभा चुनाव 2018
Share.