आकाश के समर्थन में #MaiBheBallebaaj मूहिम

0

मप्र के इंदौर शहर में निगम कर्मचारी को बल्ले से मारने के बाद बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय (kailash vijayvargiya) के बेटे आकाश विजयवर्गीय (akash vijayvargiya) को जेल भेज दिया गया अब उनके समर्थकों ने एक नयी मुहिम छेड़ दी है| मैं भी बल्लेबाज़ #MaiBheBallebaaj के नाम से शुरू कि गई इस मुहीम में आकाश विजयवर्गीय के समर्थक खुद को महिलाओं के रक्षक बता रहे है|

आकाश द्वारा बुधवार को नगर निगम अफसर की बैट से पिटाई करने के बाद फ़िलहाल इस मुद्दे पर तीखी प्रतिक्रिया और बयानों का दौर जारी है| निंदा और विरोध के जवाब में आकाश के समर्थकों ने ये मुहिम छेड़ दी है|

समर्थकों ने ट्वीट करना शुरू किया है| इसमें लिखा है-माताओं बहनों की रक्षा के लिए,महिलाओं के सम्मान के लिए,अन्याय से लड़ने के लिए,गरीबों के मान के लिए,इंदौर को गुंडों से बचाने के लिए,हां मैं भी बल्लेबाज हूं| #MaiBheBallebaaj |बता दें कि मैं भी चौकीदार का नारा लोकसभा चुनाव के दौरान काफी चर्चा में रहा था |

तब पीएम मोदी पर कांग्रेस के चौकीदार ही चोर है हमले के बाद बीजेपी ने इसे मुहिम बना लिया था| पीएम मोदी ने सोशल मीडिया पर अपने अकाउंड में अपने नाम के साथ मैं भी चौकीदार लगाया था| उनकी इस मुहिम में देश के ततम मोदी सार्थक और नेता जुड़े थे | सबने अपने-अपने नाम के साथ मैं भी चौकादार लगाया था| अब आकाश के लिए #MaiBheBallebaaj आया है |

बता दें कि भाजपा विधायक ने बुधवार को एक नगर निगम अधिकारी को क्रिकेट बेट से धुन दिया था। आकाश की इस धुआंधार बल्लेबाजी के बाद इंदौर पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया। इसके बाद अदालत ने उनकी जमानत नामंजूर कर दी और उन्हें सलाखों के पीछे पहुंचा दिया। इस मामले को लेकर जब आकाश के पिता से एक पत्रकार ने बात करनी चाही तो कैलाश विजयवर्गीय ने पत्रकार पर गुस्सा जताते हुए फोन ही काट दिया। वही अब आकाश की जमानत का फैसला भोपाल कोर्ट में होगा | इसके बाद आज यानी गुरुवार को जब सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह से इस बारे में बात की गई तो वे भी बात को टाल गए।

Share.