दलित बच्चों के खुले में शौच करने पर पीट-पीटकर हत्या

0

शिवपुरी: देश भर में स्वच्छ भारत के लिए कई अभियान चलाये जा रहे है। जिसके तहत ग्रामीण क्षेत्रों में शौचालयें बनवाने के लिए सहायता राशि भी दी जाती है। जिससे खुले में शौच से मुक्ति मिले और देश को स्वस्थ और बीमारियों से मुक्त बनाया जा सके लेकिन क्या आपने कभी कल्पना की है की यदि आप खुले में शौच करे तो आपको सजा के तौर पर मौत मिलेगी। जी हां बिलकुल ऐसी ही एक घटना प्रकाश में आई जिसने मानवता को शर्मशार कर दिया है। इस घटना में दो नाबालिग दलित बच्चों के खुले में शौच करने पर उन्हें पीट-पीट कर मौत के घाट उतार दिया गया।

Video Viral : पुलिस ने की आंगनबाड़ी सेविकाओं की बेरहमी से पिटाई

जानकारी के अनुसार घटना मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले की है। जिले के सिरसौद थाना क्षेत्र के भावखेड़ी गांव में खुले में शौच करने पर दो दलित बच्चों की पीट-पीटकर हत्या कर दी गयी है. ये दोनों बच्चे रिश्ते में बुआ -भतीजे थे और दोनों ही नाबालिग थे. इस बात की जानकारी पुलिस ने दी है.

Video : मनोज तिवारी का दिल्ली में रहना मुश्किल!

जब ये दोनों मासूम बच्चें सुबह शौच के लिए खेत में गये थे तभी आरोपी के द्वारा अपने साथी के साथ मिलकर इस घटना को अंजाम दिया गया। आरोपी और उसके साथी के द्वारा मासूमों को लगातार जब तक पीटा गया जब तक उनकी मौत नहीं हो गई।
पुलिस ने इस मामले में हत्या के दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. और नाबालिगों के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए शिवपुरी भेज दिया है. पुलिस के अनुसार जब इस मामले में आरोपी से पूछताछ की गयी तो उसने कहा- मुझे रात में सपना आया, सपने में भगवान ने कहा कि राक्षसों का संहार करो, ऐसा कहा जा रहा है कि गिरफ्तारी के बाद आरोपी पागल होने का ढ़ोंग कर रहा है.

महाराष्ट्र चुनाव से पहले सामने आया भाजपा का 1300 करोड़ का घोटाला!

-Mradul tripathi

 

Share.