website counter widget

कंप्यूटर बाबा पर मेहरबान कमलनाथ सरकार

0

मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) में कांग्रेस (Indian National Congress)  को करारी हार का सामना करना पड़ा था । इसके बाद कमलनाथ सरकार (Computer Baba Demanding Drone Camera From kamal nath government) ने कांग्रेस का प्रचार कर रहे बाबा को बड़ा तोहफा दिया था। दरअसल, विधानसभा चुनाव ( Assembly Election ) और लोकसभा चुनाव में कांग्रेस का बढ़-चढ़कर प्रचार करने वाले कंप्यूटर बाबा ( Madhya Pradesh River Trust President) को कमलनाथ सरकार (kamal nath government) ने सरकारी पद दिया था| अब खबर आ रही है कि मंत्रालय में उन्हें कक्ष दिया जाएगा|

निगमों और मंडलों में जल्द ही हो सकती है राजनीतिक नियुक्तियां

कंप्यूटर बाबा (Computer Baba Demanding Drone Camera) की धूनी से दिग्विजय सिंह (DIGVIJAY SINGH) को चुनावी फायदा हुआ हो या ना हुआ हो परंतु दिग्विजय सिंह की कृपा से कंप्यूटर बाबा के दिन आनंद में कट रहे हैं। दिग्विजयसिंह अब नर्मदा न्यास मंडल के अध्यक्ष को मंत्रालय में कक्ष आवंटित करवाने जा रहे हैं। कंप्यूटर बाबा ने एक ड्रोन की मांग (Computer Baba Demanding Drone Camera) की है। अब जब कक्ष ही मिलने जा रहा है तो ड्रोन कौन सी बड़ी चीज है।

नर्मदा न्याय मंडल के अध्यक्ष कंप्यूटर बाबा (Computer Baba Demanding Drone Camera) ने अध्यात्म विभाग के मंत्री पीसी शर्मा को कक्ष आवंटित करने के लिए पत्र लिखा है। शर्मा ने कंप्यूटर बाबा के इस पत्र के संदर्भ में सोमवार को सामान्य प्रशासन विभाग को नोटशीट लिखी है, जिसमें कंप्यूटर बाबा के लिए मंत्रालय में कक्ष आवंटित किए जाने को कहा गया है। इसकी पुष्टि विभागीय मंत्री पीसी शर्मा ने भी की है। उन्होंने कहा है कि बाबा ने अवैध रेत उत्खनन रोकने के लिए जिन संसाधनों को उपलब्ध कराने की बात कही है, वे सभी उपलब्ध कराए जाने पर भी विचार किया जाएगा।

कर्जमाफी को लेकर कमलनाथ ने कहा

जब कंप्यूटर बाबा से मीडिया ने पूछा कि उन्हें तो नर्मदा न्यास मंडल का अध्यक्ष नर्मदा नदी के संरक्षण को लेकर उपाय सुझाने के लिए बनाया गया है तो आप अवैध रेत खनन रोकने कैसे मैदान में आ गए। इस पर उन्होंने कहा कि वे जल्दी ही नर्मदा, शिप्रा और मंदाकिनी के संरक्षण को लेकर सुझाव सरकार को सौंपेंगे। अवैध रेत उत्खनन भी कैसे देख सकते हैं, वह भी तो जीवनदायिनी नदी की धारा को प्रभावित कर रहा है। उन्होंने कहा कि वे जल्दी ही खरगोन से नर्मदा के संरक्षण को लेकर यात्रा शुरू करेंगे।

मिर्ची बाबा ने करवाई हजारों के खिलाफ FIR

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.