website counter widget

मप्र कांग्रेस में उथल-पुथल

0

लोकसभा चुनाव (lok sabha election 2019) में कांग्रेस की करारी हार से पार्टी में उथल-पुथल मची हुई है| नेताओं के आनन-फानन इस्तीफे आ रहे है वही इस बीच मध्य प्रदेश नेतृत्व के खिलाफ भी बगावत शुरू हो गई है| पार्टी के प्रदेश सचिव विकास यादव ने राष्टीय अध्यक्ष राहुल गांधी को पत्र लिख ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) को प्रदेश अध्यक्ष बनाने की मांग की है|

विकास यादव ने आरोप लगाया कि सरकार में पार्टी कार्यकर्ताओं की नहीं चल रही है| जो लोकसभा चुनाव में हार का कारण बना | टीकमगढ़ में विकास यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष दो पद एक ही व्यक्ति के पास है| ऐसे में पार्टी कार्यकर्ताओं की बात नहीं सुनी जाती है और कार्यकर्ताओं में नाराजगी है| वहीं किसान कर्ज माफी अधूरी रही है| इसका नुकसान पार्टी को उठाना पड़ा|

मोहन भागवत ने कहा, राम का काम…….

प्रदेश अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) को बनाये जाने की मांग करते हुए विकास यादव ने कहा कि अगर पार्टी ऐसा नहीं करती है तो हम सब पार्टी के पदाधिकारी अपने पद से इस्तीफा दे देंगे| वहीं, कमलनाथ कैबिनेट में ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia)  खेमे की मंत्री इमरती देवी ने कहा है कि अब महाराज (ज्योतिरादित्य सिंधिया) को मध्य प्रदेश प्रदेश की कमान मिलनी चाहिए|

कैबिनेट मंत्री इमरती देवी ने ग्वालियर में कहा कि मैं पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी 9rahul gandhi) से भी मांग करूंगी कि महाराज को प्रदेश की कमान सौंपें|

कमलनाथ सरकार को कोई ख़तरा नहीं

लोकसभा चुनाव में मध्य प्रदेश में बीजेपी 28-1 से क्लीन स्वीप कर ज्योतिरादित्य (jyotiraditya scindia)  तक को हार का स्वाद चखा दिया है | कांग्रेस सिर्फ कमलनाथ का गढ़ छिंदवाड़ा बचा पाई|मोदी मैजिक के चलते देश भर में कई दिग्गज नेता हार गए है जिनमे 21 पूर्व सीएम है और इनमे 9 कांग्रेस के है|

दिग्विजय सिंह, मल्लिकार्जुन खड़गे, और ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia)  जैसे बड़े नेता इस बार अपनी सीट नहीं बचा सके |  बीजेपी ने प्रचंड बहुमत के साथ इन चुनावों में विपक्ष का सूपड़ा साफ कर दिया है जिसके बाद विपक्षी दलों में फ़िलहाल उथल-पुथल मची हुई है|

अब धारा 370 को हटाना चाहिए-अनुपम खेर

ट्रेंडिंग न्यूज़
[yottie id="3"]
Share.