कमलनाथ सरकार के खिलाफ ज्योतिरादित्य सिंधिया

0

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections) के बाद से ही कांग्रेस पार्टी (Congress party) का हाल बेहाल हो गया है। पहले कांग्रेस अध्यक्ष (Congress president) के नाम पर बवाल हो रहा था, जिसके बाद मध्यप्रदेश के कांग्रेस अध्यक्ष (Madhya Pradesh Congress President) के नाम पर भी बहस चली जो अभी भी पूरी नहीं हो सकती। अपनी ही पार्टी से खफा ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अब प्रदेश की कांग्रेस सरकार (Congress Government) पर बड़ा आरोप लगाया है, जिसमें उनका प्राति के प्रति गुस्सा साफ झलका।

 Modi-Xi Jinping Meet : भारत पहुंचे शी जिनपिंग, पीएम मोदी से करेंगे मुलाक़ात

क्या कहा सिंधिया ने ?

ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) ने किसानों की कर्जमाफी को लेकर कांग्रेस सरकार पर वादा खिलाफी का आरोप लगाया। उन्होने भिंड में लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि किसानों का कर्ज पूरी तरह से माफ नहीं किया गया है (Jyotiraditya Scindia Target Kamal Nath)। केवल 50 हजार रुपये का कर्ज माफ किया गया है जबकि हमने कहा था कि दो लाख तक का कर्ज माफ किया जाएगा। दो लाख रुपये तक के कर्ज को माफ किया जाना चाहिए। सरकार की जिम्मेदारी है कि वो अन्नदाताओं के साथ कंधा मिलाकर खड़ी रहे। उन्होंने कहा कि बाढ़ से प्रभावित किसानों को प्रति बीघे के हिसाब से 8-30 हजार रुपये तक का मुआवजा मिलना चाहिए। इस बाबत उन्होंने मुख्यमंत्री कमलनाथ से बात भी की है।

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ गिरफ्तार

कांग्रेस से खफा सिंधिया ने इससे पहले भी कांग्रेस के ही नेताओं के खिलाफ बयान दिया था। वहीं कांग्रेस के अन्य नेता भी सरकार के कार्यों पर सवाल उठा चुके हैं। राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के भाई लक्ष्मण सिंह भी कमलनाथ सरकार की इस योजना पर सवाल उठाया था (Jyotiraditya Scindia Target Kamal Nath)। लक्ष्मण सिंह ने भोपाल में कहा था कि हम राज्य में किसानों से किया कर्जमाफी का वादा पूरा करने में सफल नहीं रहे हैं। राहुल गांधी को किसानों से माफी मांगनी चाहिए और उन्हें स्पष्ट करना चाहिए कि कर्जमाफी में कितना समय लगेगा। इससे उन किसानों के बीच अच्छा संदेश जाएगा जो नाराज हैं।

Forbes India Rich List 2019 : यहां देखें Forbes India की पूरी लिस्ट

    – Ranjita Pathare

 

Share.