ओलिंपिक में स्वर्ण पदक पाने वाले खिलाड़ी को 2 करोड़ रु. देंगे

0

विधानसभा में उच्च शिक्षा, खेल एवं युवा कल्याण मंत्री जीतू पटवारी ने विभागीय बजट की अनुदान मांगों पर हुई चर्चा का जवाब दिया | इस चर्चा में उन्होंने अपने दोनों मंत्रालयों के बारे में जानकारी दी | इस अवसर पर मंत्री पटवारी ने बताया कि प्रदेश में पहली बार ओलंपिक, विश्वकप, एशियन गेम्स में पदक प्राप्त करने पर पुरस्कार राशि निर्धारित की गई है। अब ओलिंपिक में स्वर्ण पदक हासिल करने वाले खिलाड़ी को 2 करोड़ रुपए की प्रोत्साहन राशि (MP Government Will Reward 2 Cr On Winning Gold Medal) दी जाएगी।

पुलिस ने कार्रवाई कर फिर सेक्स रैकेट पकड़ा, आठ कॉल गर्ल मिलीं

इस अवसर (MP Government Will Reward 2 Cr On Winning Gold Medal) पर उन्होंने बताया कि खेल गतिविधियों के प्रभावी संचालन के लिए क्षेत्रीय विधायक को प्रतिवर्ष 5 लाख का प्रावधान किया गया है। इसके अलावा खेल अकादमियों के खिलाड़ियों को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बेहतर प्रदर्शन के लिए सायकोलॉजिस्ट, फिजियोलॉजिस्ट, फिजियोथैरेपिस्ट, डाइटीशियन आदि स्पोर्टस साइंस विशेषज्ञों की नियुक्ति का निर्णय लिया गया है ।

यह प्रावधान भी किए गए 

स्टेडियम – भोपाल के बरखेड़ा नाथू में 10 करोड़ रुपए की लागत से बनाया जाएगा।
वॉलीबॉल अकादमी – नरसिंहपुर में वर्तमान में संचालित वॉलीबॉल हॉस्टल का उन्नयन कर उसे अकादमी के रूप में स्थापित किया जाएगा।
फुटबाल – इस खेल को ज्यादा से ज्यादा प्रोत्साहित करने के लिए छिंदवाड़ा में अंतरराष्ट्रीय स्तर की फुटबाल अकादमी बनाई जाएगी।
स्वीमिंग और कुश्ती -इन दोनों खेलों के लिए इंदौर में अकादमी भी स्थापित की जा रही है।
आउटडोर स्टेडियम – रीवा में आउटडोर स्टेडियम के लिए 10 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है।
रोइंग कॉम्प्लेक्स – जबलपुर में रोइंग कॉम्प्लेक्स को अंतर्राष्ट्रीय स्तर का बनाया जाएगा।

साध्वी प्रज्ञा को भाजपा की चेतावनी, जेपी नड्डा ने किया तलब

क्वालिटी एजुकेशन वृद्धि के लिए कवायद

मंत्री पटवारी ने बताया कि क्वालिटी एजुकेशन वृद्धि के लिए 2 हजार स्मार्ट क्लासेस, 200 लैंग्वेज लैब तथा 200 ई-लायब्रेरी निर्मित की जाएंगी। इसके अलावा भोपाल के इंस्टीट्यूट फॉर एक्सीलेंस इन हायर एजुकेशन जैसे कॉलेज इंदौर, जबलपुर, सागर, छिन्दवाड़ा, रीवा, उज्जैन, ग्वालियर और होशंगाबाद में भी खोले जाएंगे।

सरकारी कॉलेजों में खाली पड़े 50% में से असिस्टेंट प्रोफेसर के 25% पदों पर दो माह में नियुक्ति की जाएगी। देते हुए कही। इसके अलावा मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग से चयनित उम्मीदवारों की 214 पदों पर क्रीड़ा अधिकारी और ग्रंथपाल की नियुक्ति की जाएगी। साथ ही उन्होंने 10 से 15 वर्ष से टीचिंग कराने वाले गेस्ट फैकल्टी के साथ भी अन्याय नहीं होने देने की बात कही है।

उच्च शिक्षा विभाग के सरकारी असिस्टेंट प्रोफेसर के 8135 पद हैं। इनमें से 4517 पदों पर असिस्टेंट प्रोफेसर कार्यरत हैं। 3618 पद खाली हैं। पटवारी ने बताया कि सरकारी नौकरी में खिलाड़ियों को दो प्रतिशत आरक्षण दिया जाएगा। मंत्री जीतू पटवारी के जवाब के बाद सदन ने उच्च शिक्षा विभाग के लिए 2342 करोड़ 76 लाख 78 हजार और खेल एवं युवा कल्याण विभाग के लिए 200 करोड़ 22 लाख रुपए की अनुदान मांगों पारित कर दिया।

ओलिंपिक में स्वर्ण पदक पाने वाले खिलाड़ी को 2 करोड़ रु. देंगे

Share.