Gopal Kanda के साथ पर बौखलाई भाजपा की साध्वी

0

हरियाणा विधानसभा चुनाव ( Haryana Assembly Elections 2019 ) मे भाजपा निर्दलीय नेताओं से समर्थन मांग रही है। इस पर सिरसा से निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव जीते गोपाल कांडा ने भाजपा (BJP) को बिना शर्त के समर्थन देने की बात कही है। इससे बीजेपी तो खुश है, लेकिन बीजेपी की साध्वी भड़क गई है। साध्वी का कहना है कि कांडा का समर्थन भाजपा के लिए सही नहीं है। भारतीय जनता पार्टी कि नेता उमा भारती ने कांडा (Gopal Kanda) के समर्थन पर सवाल उठाए हैं। इसके साथ ही उसकी मदद लेने पर एतराज जताया है। उमा भारती (Uma Bharti) ने एक के बाद एक कई ट्वीट किए और अपनी भड़ास निकाली। उन्होने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह को टैग करके सिलसिलेवार कई ट्वीट किए।

देवर ने भाभी को 10 दिनों तक बनाया हवस का शिकार

उमा भारती ने अपने ट्वीट मे लिखा “माननीय @narendramodi जी का, @AmitShah जी का, @JPNaddaजी, @mlkhattarजी का एवं @Dev_Fadnavisजी का महाराष्ट्र एवं हरियाणा के शानदार जीत के लिए अभिनंदन।” इसके बाद उमा भारती (Uma Bharti) ने दूसरा ट्वीट किया, “जब तक मोदी जी की लहर नहीं आई थी, हम हरियाणा ( Haryana Assembly Elections 2019 ) में दो विधानसभा सीटें जीतने पर भी खुश हो जाते थे। इसलिए हरियाणा में पहले चुनाव में सरकार बना लेना और दूसरे चुनाव में भी सबसे बड़ी पार्टी बनकर आना असाधारण उपलब्धि है। यह सब  @narendramodiजी के तपस्या का परिणाम है।”

धनतेरस पर कमलनाथ के प्रदेश में मोदी सिक्कों की खनक

इसके बाद उमा भारती ने और ट्वीट किए जिनमें लिखा, “मैं अभी अपने गंगा प्रवास पर हिमालय में गंगा के किनारे हूँ। यहाँ टीवी नहीं है, मैं मोबाइल पर सारी ख़बरें ले रही हूँ, मुझे जानकारी मिली है कि हम हरियाणा में भी सरकार बना सकते हैं। यह एक अच्छी ख़बर है।” आगे ट्वीट में उमा भारती ने लिखा, “मुझे जानकारी मिली है कि गोपाल कांडा (Gopal Kanda) नाम के एक निर्दलीय विधायक का समर्थन भी हमें मिल सकता है। इसी पर मुझे कुछ कहना है। अगर गोपाल कांडा वही व्यक्ति है जिसकी वजह से एक लड़की ने आत्महत्या की थी तथा उसकी माँ ने भी न्याय नहीं मिलने पर आत्महत्या कर ली थी, मामला अभी कोर्ट में विचाराधीन है, तथा यह व्यक्ति ज़मानत पर बाहर है। गोपाल कांडा बेक़सूर है या अपराधी, यह तो क़ानून साक्ष्यों के आधार पर तय करेगा, किंतु उसका चुनाव जीतना उसे अपराधों से बरी नहीं करता। चुनाव जीतने के बहुत सारे फैक्टर होते हैं। मैं @BJP4India जी से अनुरोध करूँगी कि हम अपने नैतिक अधिष्ठान को न भूलें। हमारे पास तो @narendramodiजी जैसी शक्ति मौजूद है, एवं देश क्या पूरे दुनिया की जनता मोदी जी के साथ है तथा मोदी जी ने सतोगुणी ऊर्जा के आधार पर राष्ट्रवाद की शक्ति खड़ी की है। हरियाणा में हमारी सरकार ज़रूर बने, लेकिन यह तय करिए कि जैसे @BJP4Indiaके कार्यकर्ता साफ़-सुथरे ज़िंदगी के होते हैं, हमारे साथ वैसे ही लोग हों।”

पहले दगा, अब सता के लिए भाजपा बनी मां  

कौन है गोपाल कांडा जिनके नाम पर बवाल पर मचा है बवाल

गोपाल कांडा (Gopal Kanda) का नाम वर्ष 2012 में उस वक्त चर्चा में आया था जब उनकी एयरलाइन की एक महिला कर्मचारी गीतिका शर्मा ने आत्महत्या कर ली थी। इसके बाद कांडा पर ही आरोप लगाए गए थे। आत्महत्या के बाद सुसाइड नोट में भी गोपाल कांडा और उनकी ही कंपनी के एक कर्मचारी का नाम सामने आया था। मामले के 10 दिन बाद कांडा ने आत्मसमर्पण कर दिया था, जिसे बाद वे काफी समय के लिए जेल में भी बंद थे। महिला कर्मचारी की मौत के बाद मामले में न्याय नहीं मिलने पर मृतका की मां ने भी आत्महत्या कर ली थी। यह मामला अभी भी कोर्ट में चल रहा है।

   – Ranjita Pathare

Share.