सरकार के पास पैसों का पेड़ नहीं है : गोविंदसिंह

0

‘राज्य की जनता को सभी सुविधाएं भी तो देनी है, जिसके लिए रुपयों की ज़रूरत होगी। सरकार के पास कोई ऐसा पेड़ तो है नहीं, जिसे हिलाने पर बेर की तरह पैसे गिर जाएं। ऐसे में शराब से मिलने वाला राजस्व (Govind Singh Statement On MP Liqueur Ban) प्रदेश के लिए काफी ज़रूरी है।’ 

यह बात मध्यप्रदेश के सहकारिता मंत्री गोविंदसिंह ने राज्य में शराबबंदी को लेकर चलने वाली चर्चाओं पर अपनी प्रतिक्रिया (Govind Singh Statement On MP Liqueur Ban) देते हुए कही| उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने कभी भी राज्य में शराबबंदी का वादा नहीं किया था।

Prahlad Bandhwar Murder Case : एसआईटी का गठन

भोपाल में शराबबंदी की चर्चा पर गुरुवार को मीडिया से बात करते हुए मंत्री गोविंदसिंह ने कहा, “राज्य में आम जनता शराबबंदी की मांग करती रहती है, जिस पर नेताओं द्वारा कह दिया जाता है कि विचार किया जाएगा, लेकिन मैंने अथवा मुख्यमंत्री ने कभी शराबबंदी की बात नहीं कही।“ कई राज्यों में शराबबंदी के विफल रहने का ज़िक्र करते हुए गोविंदसिंह ने कहा कि गुजरात में भी शराबबंदी हुई है, लेकिन वहां लोगों को शराब आसानी से मिल रही है।

गौरतलब है कि कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव से पहले वचन-पत्र जारी किया था, जिसमें कहा गया था कि सत्ता में आने पर हमारे द्वारा दिए गए वचन पूरे किए जाएंगे। लिहाजा सिंह ने उसी वचन-पत्र का हवाला देते हुए गोविंदसिंह ने कहा कि कांग्रेस ने शराबबंदी का कोई वचन नहीं दिया था।

Madhya Pradesh : एक ओर नेता पुत्र की राजनीति में एंट्री

मध्यप्रदेश के सहकारिता मंत्री गोविंदसिंह के इस बयान से यह तो स्पष्ट हो गया है कि गुजरात या बिहार की तरह मध्यप्रदेश की कांग्रेस सरकार के दौरान तो शराबबंदी होने से रही|

-अंकुर उपाध्याय

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

 

मप्र में बढ़ता जा रहा स्वाइन फ़्लू का कहर

Share.