website counter widget

पूर्व विधायक डॉ.सुनीलम ने ट्रेन के टॉयलेट में छुपकर जान बचाई

0

प्रदेश में लगभग डेढ़ दशक पहले हुए बैतूल जिले के बहुचर्चित मुलताई गोलीकांड मामले में वर्ष 2012 में न्यायालय ने अपना फैसला देते हुए पूर्व विधायक डॉ. सुनीलम सहित तीन आरोपियों को आजीवन कारावास और अर्थदंड की सज़ा सुनाई है। डॉ|सुनीलम वैसे तो गोलीकांड जैसी वारदातों को अंजाम देते हैं और हमेशा विरोधियों के खिलाफ पर हमेशा कुछ न कुछ बोलते रहते हैं, परन्तु हाल ही में ट्रेन में हुई एक घटना ने उनकी बोलती (MLA Dr. Sunilam Hidden In Train Toilet ) बंद कर दी | यहां उनकी जान पर बन आई तो उन्होंने टॉयलेट में छिपकर अपनी जान बचाई|

मैं हिंदुओं के लिए लड़ रही ऋचा की मदद करूंगा-सुब्रह्मण्यम स्वामी

उल्लेखनीय है कि रेलयात्रियों की सुरक्षा के लिए विभाग भले ही कई स्तरों पर इंतजाम का दावा करे, परंतु हकीक़त इससे जुदा है| मध्यप्रदेश के पूर्व विधायक डॉ. सुनीलम सोमवार रात गोंडवाना एक्सप्रेस के ऐसी कोच में यात्रा कर रहे थे| उस कोच में घुसे एक अपराधी किस्म के युवक ने उन्हें जान से मारने की धमकी दी| डॉ.सुनीलम ने (MLA Dr. Sunilam Hidden In Train Toilet ) जान बचाने के लिए खुद को शौचालय में बंद कर लिया|

कर्नाटक के बाद मध्यप्रदेश सरकार में भाजपा का खौफ

पूर्व विधायक ने रेलमंत्री पीयूष गोयल को मंगलवार को भेजे शिकायती पत्र में कहा “सोमवार-मंगलवार की दरमियानी रात निजामुद्दीन से मुलताई की ओर जाने वाली गोंडवाना एक्सप्रेस के बी-1 कोच के बर्थ नंबर 17 पर यात्रा कर रहे थे| इसी दौरान बीना स्टेशन पर एक युवक आरती नाम की लड़की के साथ उस कोच में सवार हुआ| यात्रा के दौरान इस युवक ने मेरे साथ कई बार (MLA Dr. Sunilam Hidden In Train Toilet ) अभद्रता की| मैंने इसकी शिकायत टीटीई से की|”

डॉ.सुनीलम ने प्रधानमंत्री व रेलमंत्री के ट्विटर हैंडल पर भी शिकायत की| बीना से भोपाल तक आने में दो घंटे लगे, परन्तु इस दौरान उन्हें किसी का सहयोग नहीं मिला| डॉ.सुनीलम ने ट्विटर पर लिखा है कि अनधिकृत तौर पर यात्रा कर रहा युवक उन्हें लगातार धमकाता रहा| भोपाल स्टेशन पर उसके कई साथी भी आ गए, इस दौरान जान बचाने के लिए उन्हें खुद को शौचालय में (MLA Dr. Sunilam Hidden In Train Toilet ) बंद करना पड़ा| भोपाल स्टेशन पर जितनी देर गाड़ी खड़ी रही, उतनी देर तक युवक के साथी दरवाजे पर पैर से ठोकर मारते रहे,  परन्तु कोई सुरक्षाकर्मी नहीं आया|

तबीयत ख़राब होने पर गौर एयर एंबुलेंस से दिल्ली रवाना

बैतूल जिले के मुलताई से दो बार विधायक रहे डॉ.सुनीलम ने गाड़ी के टीटीई का एक वीडियो बनाया है, जिसे अपनी शिकायत के साथ उन्होंने रेलमंत्री को भेजा है| उनका कहना है कि रेलमंत्री और प्रधानमंत्री का ट्विटर हैंडल महज दिखावा है| टीटीई ने युवक को बिना टिकट एसी कोच में यात्रा करने की अनुमति क्यों दी, इसका टीटीई के पास  कोई जवाब नहीं था| उन्होंने आगे लिखा है कि शिकायत के तीन घंटे बाद गाड़ी जब होशंगाबाद पहुंची, तब एक सुरक्षाकर्मी उनके पास आया और बगैर जानकारी लिए चला गया|

उन्होंने लिखा, “आरपीएफ अधिकारी ने ट्विटर हैंडल पर लिखा है कि युवक को भोपाल स्टेशन पर उतार दिया गया जबकि ऐसा हुआ ही नहीं| अनधिकृत यात्रा करने वाले युवक के साथियों ने भोपाल स्टेशन पर उन्हें मारने की कोशिश की| यदि वे खुद को शौचालय में बंद नहीं करते तो जान बचना मुश्किल था|”

उन्होंने जान से मारने की धमकी देने वाले गुंडों को तत्काल गिरफ्तार किए जाने, दोषी अधिकारियों और कर्मचारियों को तत्काल निलंबित कर गिरफ्तार किए जाने की मांग की है|

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.