क्यों सिंधिया ने कांग्रेस हटाकर लिखा जन सेवक?

0

पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया (Former Union Minister and Congress leader Jyotiraditya Scindia) ने ट्विटर पर अपना बायो बदल दिया है. अब उनका बायो लोक सेवक और क्रिकेट प्रेमी हो गया है. इससे पहले सिंधिया के ट्विटर प्रोफाइल में पूर्व केंद्रीय मंत्री और पूर्व सांसद लिखा हुआ था. अब ज्योतिरादित्य सिंधिया के ट्विटर प्रोफाइल (Twitter profile) बदलने से कई सवाल खड़े हो रहे हैं कि उन्होंने ऐसा क्यों किया। ज्योतिरादित्य सिंधिया के ट्विटर प्रोफ़ाइल में कहीं भी कांग्रेस पार्टी का अब ज़िक्र नहीं है. बता दें कि ऐसी अटकलें थीं कि लोकसभा चुनाव में गुना से करारी हार के बाद सिंधिया पार्टी में उपेक्षा झेल रहे हैं। अगस्त महीने में सिंधिया की नाराजगी और उनके समर्थन में कार्यकर्ताओं की इस्तीफे की धमकी के बीच सीएम कमलनाथ खुद सोनिया गांधी से मिलने दिल्ली भी गए थे। मुलाकात के बाद कमलनाथ ने कहा था कि ‘सब कुछ ठीक’ है।

अजित पवार को ढाई साल का CM बनाएगी BJP

आपको बता दें कि ज्योतिरादित्य सिंधिया की नाराजगी जगजाहिर है. मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की जीत में बड़ी भूमिका निभाने वाले सिंधिया खुद को सीएम पद का उम्मीदवार मान रहे थे. लेकिन बाद में कांग्रेस आलाकमान ने उनको नजरंदाज करते हुए मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ को सीएम बना दिया. हालांकि उस समय उनको किसी तरह से समझा बुझाकर शांत कर दिया गया. लेकिन बाद में जब लोकसभा चुनाव में पार्टी की करारी हार हुई तो उन्होंने महासचिव के पद से इस्तीफा दे दिया. कार्यसमिति की बैठक में बिना नाम लिए मुख्यमंत्रियों पर निशाना साधा. जाहिर है उनके निशाने पर सीएम कमलनाथ रहे होंगे. कुछ दिन पहले एक ज्योतिरादित्य सिंधिया का एक पोस्टर भी मध्य प्रदेश में लगाया था. जिसमें उनती तस्वीर के साथ पीएम मोदी (PM Modi), अमित शाह (Amit Shah) की भी तस्वीर थी.

VIDEO : महाराष्ट्र के महासंग्राम पर राहुल गांधी का बड़ा बयान

आपको बता दें कि ज्योतिरादित्य सिंधिया के हाल के दिनों में कई ऐसे बयान आए थे जिससे ये लग रहा था कि उनके और कांग्रेस पार्टी के बीच सबकुछ ठीक नहीं है. सिंधिया ने कर्जमाफी, बाढ़ राहत राशि के लिए सर्वे और बिजली कटौती के मामले में खुद की पार्टी वाली कमलनाथ सरकार (Kamal Nath Government) को कटघरे में खड़ा किया था जिसकी वजह से बीजेपी को कमलनाथ सरकार पर हमला करने के कई मौके मिले थे और लोगों को सिंधिया का रुझान भाजपा की ओर होते हुए दिख रहा था।

मोदी राज में बीजेपी के बड़े नेता की पिटाई का LIVE VIDEO

-Mradul tripathi

Share.