चौकीदार…का नारा लगवाकर की संबोधन की शुरुआत

0

लोकसभा चुनाव (loksabha election ) के अंतर्गत इन दिनों प्रचार जोर-शोर से चल रहा है| 8 दिन बाद इंदौर और आसपास के क्षेत्र में मतदान के मद्देनज़र स्टार प्रचारक लगातार दौरा कर रहे हैं | शुक्रवार को इंदौर में नवजोत सिंह सिद्धू ने खेत्र का दौरा कर कांग्रेस प्रत्याशी के समर्थन में वोट देने का आह्वान किया था वहीं आज कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (rahul gandhi) ने देवास और धार लोकसभा क्षेत्र का दौरा कर वहां जनसभाएं की | मध्यप्रदेश के शाजापुर जिले के शुजालपुर और धार जिले के अमझेरा में चुनावी सभा को संबोधित किया। देवास लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी प्रहलाद टिपानिया और धार से दिनेश गिरवाल के  पक्ष में सभा को संबोधित करते हुए नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा।

अफगानिस्तान में फिर पत्रकार आतंक का शिकार

मंच पर आते ही राहुल गांधी (rahul gandhi) ने अपने संबोधन की शुरुआत करते हुए कहा चौकीदार… तो मंच के नीचे से आवाज आई चोर है|  राहुल गांधी ने कहा, “यह चुनाव कांग्रेस-भाजपा नहीं दो विचारधाआरों की लड़ाई है। पांच साल पहले नरेंद्र मोदी अच्छे दिन का सपना दिखाकर सत्ता में आए थे, लेकिन इन चुनाव में वे अच्छे दिन की बात नहीं कर रहे हैं। उन्होंने दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने, किसानों को फसल का दोगुना दाम देने का वादा किया था। इसके अलावा हर भारतीय के खाते में 15 लाख रुपए डालने का वादा भी किया था, क्या वो वादा पूरा हुआ।“

अमेरिका ने बनाए अनोखी मिसाइल, काट के रख देगी  

कर्जमाफी पर बात करते हुए राहुल (rahul gandhi) ने शिवराज सिंह चौहान पर तंज कसा। उन्होंने कहा, “विधानसभा चुनाव के दौरान 10 दिन में कर्जमाफी का कहा था, लेकिन सत्ता में आते ही दो दिन में कर्ज माफ कर दिया। शिवराजजी और मोदीजी ने कहा- कांग्रेस कर्जमाफी पर झूठ बोल रही है। मैं शिवराजजी से कहना चाहता हूं कि हमने मप्र के किसानों के ही नहीं आपके परिवार का भी कर्ज माफ किया है।“

राहुल (rahul gandhi) ने कहा, “मोदीजी मेरे दादा, परदादा, दादी और पिता को गाली दे रहे हैं। मैं उन्हें बताना चाहता हूं कि कांग्रेस के दिल में नफरत नहीं है। नफरत तो भाजपा और नरेंद्र मोदी जी के दिल में है। उनकी नफरत को नफरत से नहीं काटा जा सकता। वे मुझसे और कांग्रेस से जितनी नफरत करेंगे, मैं उन्हें उतनी ही झप्पी देता रहूंगा… प्यार देता रहूंगा।“

कार के माध्यम से करें मोटी कमाई

उन्होंने कहा, “जीएसटी लागू करने के पहले मैंने चिदंबरमजी को मोदीजी के पास भेजकर कहा कि आप बिना प्लानिंग के जीएसटी लागू मत कीजिए। बहुत दिक्कत होगी, रोजगार-धंधे चौपट हो जाएंगे।“ इस पर उन्होंने (rahul gandhi) कहा, “फैसला ले लिया गया है। रात 12 बजे जीएसटी लागू हो जाएगा। इस प्रकार उन्होंने नोटबंदी पर किसी से बात नहीं की। विपक्ष की नहीं सुनी, देश की जनता की नहीं सुनी। उन्होंने केवल सुनी तो नीरव मोदी, मेहुल चौकसी और अनिल अंबानी की ।“

न्याय योजना पर (rahul gandhi) कहा, “इसका आइडिया मुझे नरेंद्र मोदी जी ने दिया है। वे 15 लाख रुपए हर अकाउंट डालने का वादा तो पूरा नहीं कर पाए, लेकिन मैं पांच करोड़ परिवार के खाते में हर साल 72 हजार रुपए ज़रूर डलवाउंगा। ये रुपए महिलाओं के खाते में आएंगे। न्याय योजना के लिए मेरी टीम ने छह महीने रिसर्च किया है। इसके बाद हमने इस योजना पर बात की। मैंने अपनी टीम से कहा कि हम हम गरीबों को हर साल कितना पैसा दे सकते हैं आप इस पर काम करें। हां, लेकिन इससे किसी को नुकसान नहीं हो। ना तो अर्थव्यवस्था को और ना गरीब, छोटे दुकानदारों को। वे रिसर्च के बाद मेरे पास आए और कागज पर 72 हजार रुपए लिख दिए हैं। मैं यह देख हिल गया और कहा कि 72 हजार रुपए हर साल पांच करोड़ परिवारों को देना संभव है। इस पर उन्होंने कहा कि हिंदुस्तान की जनता जो रोज खरीदती है, वही हमारे देश की आर्थिक शक्ति है। जीएसटी और नोटबंदी कर नरेंद्र मोदी ने उस अर्थिक शक्ति को खत्म कर दिया।“

राहुल गांधी (rahul gandhi) ने कहा कि- शुजालपुर में लहसुन की खेती बहुत ज्यादा मात्रा में होती है, लेकिन इसका पेस्ट कहीं ओर बनता है। प्रोसेसिंग कहीं और होती है। इसलिए कमलनाथजी ऐसा नहीं हो सकता कि यहीं पर एक यूनिट बन जाए। इस पर कमलनाथ ने प्रोसेसिंग यूनिट शुजालपुर में डालने की घोषणा कर दी। राहुल गांधी ने आम बजट के साथ किसानों के लिए अलग से बजट बनाने की बात भी कही। साथ ही कांग्रेस की सरकार आने पर किसी भी किसान को कर्ज के जुर्म में जेल नहीं जाने का वादा भी किया। उन्होंने सरकार बनने पर 10 लाख युवाओं को  पंचायत और 19 लाख युवाओं को सरकारी जॉब देने का वादा किया।

Video : इतनी सी बात के लिए आपस में ही भिड़े कांग्रेसी

 

Share.