पूर्व विधायक ने थामा कांग्रेस का हाथ

0

मध्यप्रदेश में लोकसभा चुनाव के लिए पार्टियों ने कमर कस ली है। लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा को करारा झटका लगा है। भाजपा के पूर्व विधायक और सीहोर जिले के पूर्व भाजपा नेता रमेश सक्सेना ने कांग्रेस का हाथ थाम (BJP Legislator Ramesh Saxena Joins Congress) लिया। गुरुवार को उन्हें सीएम कमलनाथ और दीपक बावरिया ने पार्टी की सदस्यता दिलाई।

कांग्रेस की सदस्यता लेने के बाद रमेश सक्सेना ने कहा कि मैं पिछले चार वर्ष से पूर्व सीएम शिवराज के बंगले पर नहीं गया हूं, क्योंकि मैं नेता बना भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई लड़ने के लिए। भाजपा भ्राष्टाचारी पार्टी बन गई है। इसलिए मैंने कहा था कमलनाथ जी जब प्रदेश में आएंगे, जैसा आदेश देंगे मैं वैसा करूंगा। वह मेरे बड़े भाई हैं, जब वह प्रदेश अध्यक्ष बने थे तभी मैंने कहा दिया था कि मैं अब भाजपा में नहीं हूं।

लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी को झटका, पूर्व विधायक रमेश सक्सेना कांग्रेस में शामिल

वहीं सीएम कमलनाथ ने कहा, रमेश सक्सेना भाजपा में लीज पर थे। अब उनकी लीज समाप्त हो गई है। उन्होंने कहा कि सक्सेना को कांग्रेस में आने के बाद मालिकाना हक मिला है। अब उनकी घर वापसी हुई है।

रमेश सक्सेना पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के गृह जिले सीहोर से आते हैं। उनके कांग्रेस में शामिल होने से भाजपा का करारा झटला लगा है। विधानसभा चुनाव में भी सक्सेना ने भाजपा के लिए परेशानियां खड़ी कर दी थी। उन्होंने अपनी पत्नी को चुनावी मैदान में उतारा था।

सुख के सब साथी, दुःख में न कोय…

अब आईपीएस अफसरों के भी तबादले

मप्र में फिर IPS अधिकारियों के तबादले

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.