website counter widget

राजधानी का बंटवारा अब नहीं होगा

0

भोपाल : अभी हाल ही में खबर आई थी की प्रदेश सरकार राजधानी भोपाल को दो हिस्सों में बाटने की योजना बन रही है। जिसके अनुसार अब भोपाल में दो नगर निगम  (Municipal Corporation)होंगे एक भोपाल नगर निगम और दूसरा  कोलार नगर निगम। प्रदेश सरकार के इस प्रस्ताव का भाजपा नेताओ भारी विरोध किया था।  और कहा था कांग्रेस (Congress) सरकार हमेशा से बटवारें का काम करती आई है और इस बार भी राजधानी को बाटने का काम कर रही है।

भोपाल में दो नगर निगम बनाने का फैसला लेने के संबंध में नगर निगम परिषद की विशेष बैठक बुलाई गई थी. पहले से ही अंदाजा लगाया जा रहा था कि बीजेपी शासित नगर निगम परिषद में भोपाल में दो नगर निगम बनाने का प्रस्ताव खारिज हो सकता है. ऐसा ही हुआ भी. परिषद ने दो नगर निगम बनाने का प्रस्ताव बहुमत से खारिज कर दिया.  नगर निगम (Municipal Corporation) न बनाने से जुड़े प्रस्ताव को बहुमत से पारित कर दिया गया है. निगम में बीजेपी  बहुमत में है. विपक्ष में बैठे कांग्रेस (Congress) के सदस्यों के जमकर विरोध और हंगामे के बावजूद भी सदन ने यह प्रस्ताव पारित कर दिया.

नगर निगम में कांग्रेस अल्पमत में है. बैठक शुरू होते ही विपक्ष में बैठे कांग्रेस पार्षद सदन में आसंदी के सामने धरने पर बैठ गए और रघुपति राघव राजाराम गाना शुरू कर दिया. इसका जवाब बीजेपी की महिला पार्षदों ने दिया. उन्होंने गाया- कांग्रेस को सद्बुद्धि दे भगवान. कांग्रेस पार्षदों ने जय-जय कमलनाथ के नारे लगाने शुरू किए तो बीजेपी सदस्यों ने भारत माता की जय के नारे लगाए.

 

-Mradul tripathi

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.