website counter widget

Ujjain : ऑटो रिक्शा चालक ने मासूम को बनाया हवस का शिकार

0

देश भर में दुष्कर्म के मामले लगातार बढ़ते ही जा रहे हैं। यौन अपराधों पर रोक लगाने में प्रशासन पूरी तरह से नाकाम साबित हो रहा है। हाल ही में एक ताजा मामला बाबा महाकाल की नगरी उज्जैन से सामने आया है। यहां की शास्त्रीनगर में रहने वाली एक 14 वर्षीय छात्रा से उसी के ऑटो रिक्शा चालक ने दुष्कर्म किया। दरअसल मामला शुक्रवार 1 नवंबर का बताया जा रहा है जब दोपहर 12 बजे किशोरी अपने घर से स्कूल जाने के लिए निकली थी। किशोरी को उसकी स्कूल के बाहर ही उसकी पहचान वाला एक ऑटो चालक मिल गया। ऑटो रिक्शा चालक ने किशोरी को चकोर पार्क घुमाने का बहाना बनाकर उसे अपन ऑटो में बैठा लिया। इसके बाद चालक छात्रा को लेकर हामूखेड़ी के एक घर में पहुंचा।

बताया जा रहा है कि ऑटो रिक्शा चालक ने हामूखेड़ी के घर में किशोरी को अपनी हवस का शिकार बनाया और बाद में उसे स्कूल में छोड़ कर फरार हो गया। इसके बाद जब किशोरी शाम को घर पहुंची तब उसने परिजन को आपबीती सुनाई। इसके बाद किशोरी के परिजन किशोरी को लेकर नीलगंगा पुलिस थाने पहुंचे और आरोपी के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज करवाया। नीलगंगा पुलिस ने किशोरी की शिकायत पर आरोपी के खिलाफ दुष्कर्म समेत पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया। फ़िलहाल पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है।

The depression woman sit on the floor with sexual harassment concept

पुलिस ने बताया की जब किशोरी दोपहर को स्कूल जाने के लिए निकली तभी उसे स्कूल के बाहर उसकी पहचान का ऑटो रिक्शा चालक मिल गया। आरोपी ऑटो रिक्शा चालक का नाम राज पिता गोपाल यादव निवासी सरदारपुरा बताया जा रहा है। चूंकि किशोरी राज को जानती थी इसलिए उसने पार्क घुमाने की बात से इंकार न करते हुए उसके साथ चली गई। लेकिन जब राज किशोरी को एक सूने मकान में ले गया तब किशोरी ने शोर मचाने की कोशिश की। लेकिन राज ने किशोरी को रोने या शोर मचाने पर जान से मारने की धमकी दी और उसे अपनी हवस का शिकार बनाया। फिलहाल पुलिस राज की तलाश कर रही है।

Prabhat Jain

ट्रेंडिंग न्यूज़
[yottie id="3"]
Share.