नीमच के कनावटी जेलब्रेक मामले में 4 नए खुलासे

0

नीमच की कनावटी जेल से कुछ दिनों पहले चार कैदी फरार (Four Prisoners Absconded From Kanawati Sub Jail Neemuch) हो गए थे,  जिसके बाद जेल विभाग के साथ-साथ गृह विभाग और मंत्री से लेकर सरकार तक में हड़कंप मच गया था। इसके बाद चारों कैदियों को भगाने वाला मास्टरमाइंड पकड़ा गया (Prisoner Lekhram Bawari ) था | अब इस मामले में चौंकाने वाले ख़ुलासे हुए है | प्राप्त जानकारी के अनुसार, जेल से फ़रार होने की साज़िश 6 महीने से रची जा रही थी| जेल ब्रेक से पहले जेल में नींद की 80 गोलियां लाई गईं थीं|

आकाश के समर्थन में #MaiBheBallebaaj मुहीम

उल्लेखनीय है कि नीमच के कनावटी जेलब्रेक (Kanawati Sub Jail Neemuch) मामले में फरार 4 क़ैदियों में से अब तक दो क़ैदी पकड़े जा चुके हैं| इनके नाम लेखराम बावरी और मिट्ठूलाल हैं| लेखराम बावरी हत्या और लूट के केस में सज़ायाफ्ता था|

पुलिस पूछताछ में लेखराम बावरी ने कई चौंकाने वाले खुलासे किए हैं (Prisoner Lekhram Bawari ) :

पहला खुलासा

लेखराम बावरी के मुताबिक जेल ब्रेक की साज़िश 6 महीने से रची जा रही थी| उसने जो जानकारी दी है, उसके मुताबिक जेल प्रशासन और ड्रग डीलरों की सांठगांठ है|

महापौर मालिनी गौड़ ने चुप्पी साधी

दूसरा खुलासा

लेखराम बावरी ने यह भी बताया कि जेल में नींद की 80 गोलियां लाई गई थीं| उसने जेल ब्रेक के लिए रुपए देकर बैरक भी बदलवाया था| फरार होने के बाद 4 दिन तक आरोपी जंगल में छुपे रहे थे|

तीसरा खुलासा

यह भी ख़ुलासा हुआ था कि इन प्रहरियों ने जेल के गेट खुले छोड़ दिए थे ताकि क़ैदी भाग सकें|

चौथा खुलासा

बैरक की सलाखें काटने के लिए औज़ार भी कहीं न कहीं इन प्रहरियों के ज़रिये जेल लाए गए थे| पुलिस को संदेह है कि बैरक के सरिये आरी से नहीं बल्कि इलेक्ट्रिक कटर से काटे गए थे और बाकी क़ैदियों को छाछ में नींद की कोई चीज मिलाकर पिला दी गई थी|

Video : टोल प्लाज़ा कर्मचारियों ने सवारियों से की मारपीट

घटना के अनुसार, 23 जून की अलसुबह 4.32 बजे कनावटी जेल से एनडीपीएस एक्ट एवं हत्या के 4 आरोपी रस्‍सी के सहारे जेल की दीवार फांदकर फरार हो गए थे| उसके बाद एसपी राकेश कुमार सगर ने नीमच केंट में धारा 364/19 धारा 224 भादवि में प्रकरण दर्ज कर मामले को जांच में लिया था | चारों बंदियों की गिरफ्तारी पर पुलिस महानिदेशक ने 50-50 हजार रूपए का इनाम घोषित किया था|

Share.