मप्र : 40 घंटे बाद भी नहीं हुआ महिला का पीएम

0

मध्यप्रदेश में इंसानियत को तार-तार करने वाली एक घटना सामने आई है| कुछ डॉक्टरों की मनमानी के कारण एक जली हुई महिला के शव का 40 घंटे से भी अधिक समय तक अंतिम संस्कार नहीं हो पाया| महिला के परिजन शव लेकर एक अस्पताल से दूसरे अस्पताल भटकते रहे, लेकिन डॉक्टरों ने उसका पीएम नहीं किया|

मामला प्रदेश के नरसिंहपुर के तेंदूखेड़ा का है| यहां के ग्राम खमरिया में गनेशीबाई धानक की बुधवार को जलने से मौत हो गई थी| उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया था| जलने का कारण पता नहीं लग पाया है| इसके बाद पुलिस ने तेंदूखेड़ा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को शव बुधवार 11 बजे सौंप दिया था| वहां के डॉक्टर मिश्रा छुट्टी पर थे और प्रभारी चिकित्सा अधिकारी रामेश्वर पटेल ने पीएम करने से मना कर दिया था|

जब परिजन शव लेकर तेंदूखेड़ा से 50 किमी दूर करेली सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे तो वहां से चिकित्सकों ने उन्हें फटकार लगाकर भगा दिया| देर रात तक जब पीएम नहीं हुआ तो शव को मरच्यूरी में रखा दिया| डॉक्टर गुरुवार को भी पहले पीएम करने में आनाकानी करते रहे, लेकिन पुलिस के दबाव के बाद उन्होंने पीएम कर दिया|

Share.