आखिर कौन हैं, जो सीएम कमलनाथ को लला बोल रहे हैं?

2

मध्यप्रदेश में वैसे तो कांग्रेस के कार्यकर्ता ही कमलनाथ के सीएम बनने का जश्न मना रहे हैं, लेकिन एक दूसरा प्रदेश भी ऐसा ही है, जिसमें कमलनाथ के सीएम बनने की लोग खुशियां मना रहे हैं। वह प्रदेश कोई दूसरा प्रदेश नहीं बल्कि कमलनाथ का जन्म स्थान उत्तरप्रदेश ही है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कमलनाथ का उत्तरप्रदेश से भी गहरा संबंध है। उनकी ताजपोशी की तैयारी मध्यप्रदेश में चल रही है, लेकिन जश्न उत्तरप्रदेश के बरेली की आंवला तहसील के गांव अतरछेड़ी में भी मन रहा है। यहां आतिशबाजी हो रही है और एक-दूसरे से पुरानी यादें साझा हो रही हैं। बुजुर्ग खुशी से फूले नहीं समा रहे। ज्यादातर के मुंह पर यही जुमला है- ‘अपने महेंद्रनाथजी को लला सीएम बन गओ।‘

इस गांव में खुशियां बेसबब नहीं मन रहीं। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री बनने जा रहे कमलनाथ के पूर्वज अतरछेड़ी गांव के ही मूल निवासी थे। कमलनाथ के पिता डॉ. महेंद्रनाथ भी इसी गांव में पैदा हुए। वह तीन भाई थे। एक धर्मेंद्रनाथ, दूसरे नरेंद्रनाथ और तीसरे खुद महेंद्रनाथ। दादा केदारनाथ अपने तीनों पुत्रों और पत्नी के साथ सालों पहले गांव से चले गए और कोलकाता में जाकर बस गए थे। गांव में वे गहनों का कारोबार करते थे। बुजुर्गों को कमलनाथ के दादा के गांव छोड़ने की सही तिथि तो याद नहीं, लेकिन उनसे जुड़ी बहुत सी बातें याद हैं। बताते हैं कि कमलनाथ के बाबा केदारनाथ ने गांव में बड़ी हवेली बनाई थी।

कमलनाथ की तरक्की से मिला हौसला

अधिवक्ता संजयसिंह कहते हैं कि कमलनाथ के मुख्यमंत्री की कुर्सी तक पहुंचने से गांव को नई पहचान और युवाओं को तरक्की का आसमान छूने के लिए नया हौसला मिल गया।

अतरछेड़ी बुलाएंगे कमलनाथ को

ग्राम प्रधान सत्यवती देवी के पुत्र अतुल कुमार सिंह ने कहा कि कमलनाथ को गांव बुलाने के लिए सभी लोग इकट्ठा होकर मध्यप्रदेश जाएंगे। वे पांच साल पहले दिल्ली में व्यापारियों के एक कार्यक्रम में गांव अतरछेड़ी को देखने की ख्वाहिश भी जता चुके हैं।

पढ़िए, कौन चलाएगा सूबे की सरकार

इस बार भी सिंधिया क्यों नहीं बन पाए मुख्यमंत्री…?

जानें आखिर कौन हैं मप्र के नए सीएम कमलनाथ ?

Share.