सरकार ने मप्र के बालिका गृहों की जांच के दिए आदेश

0

बिहार और उत्तरप्रदेश के बालिका गृहों में हुए दुष्कर्म कांड से पूरा देश चौंक गया है। बिहार के मुजफ्फरपुर में हुई दरिंदगी के बाद यूपी के देवरिया में भी ऐसा ही मामला सामने आया है। इस घटना से मध्यप्रदेश सरकार भी सचेत होती नज़र आ रही है। मध्यप्रदेश सरकार ने प्रदेश के सभी बालिका गृहों की जांच के आदेश दिए हैं। सरकार ने यह भी निर्देश दिए हैं कि सभी बालिका गृहों में महीने में एक बार मेडिकल जांच करवाई जाए।

दरअसल, मध्य प्रदेश के महिला एवं बाल विकास विभाग ने सभी जिलों के कलेक्टरों को गाइडलाइन जारी कर कहा है कि सभी बालिका गृहों में महीने में एक बार मेडिकल जांच होगी और इस रिपोर्ट को सरकार के पास भेजा जाएगा। मध्यप्रदेश में इस तरह की घटना से सचेत रहने के लिए सरकार ने यह पहल की है। पहले ही बेटियों की सुरक्षा को लेकर प्रदेश की शिवराज सरकार कटघरे में रही है।

गौरतलब है कि बिहार के मुजफ्फरपुर शेल्टर होम में हुए खौफनाक रेप कांड के खुलासे के बाद पूरे देश में हड़कंप मच गया है।  यह पूरा मामला खबरों में तब आया, जब टाटा इंस्टिट्यूट ऑफ सोशल साइंस (टीआईएसएस) की ऑडिट रिपोर्ट सामने आई।  31 मई को बिहार सरकार को सौंपी गई रिपोर्ट में खुलासा हुआ कि कैसे इन बालिका गृह में छोटी-छोटी बच्चियों का शोषण किया जाता रहा है। इसी घटना से सचेत प्रदेश सरकार ने मध्यप्रदेश के बालिका गृहों में बालिकाओं की सुरक्षा के लिए यह कदम उठाया है।

Share.