रतलाम में मना जीत का जश्न

0

ऐतिहासिक जीत दर्ज करने के बाद रतलाम के विधायक चेतन काश्यप ने देर शाम अपना विजयी जुलूस निकाला। नतीजों में मध्यप्रदेश से भाजपा की विदाई दिख रही है, लेकिन उसके बाद भी रतलाम की जनता ने काश्यप को शानदार जीत दिलाई। मतगणना के दिन सुबह से ही कला एवं विज्ञान महाविद्यालय के बाहर जिलेभर से आए दोनों दलों के समर्थकों ने डेरा डाल लिया था। रतलाम शहर की सीट पर शुरुआती रुझान से लेकर अंतिम दौर तक हर राउंड में भाजपा ने बढ़त बनाए रखी। इसके उलट जावरा के चुनाव नतीज़ों के लिए सभी को लंबा इंतज़ार करना पड़ा।

यहां भाजपा के उम्मीद्वार राजेन्द्र पांडे को कड़े मुकाबले में जीत मिली। सैलाना और आलोट भाजपा के हाथ से फिसलकर कांग्रेस के खाते मे चला गया जबकि रतलाम शहर, ग्रामीण और जावरा बचाने में भाजपा सफल हुई। जिले की 5 सीटों में अब भाजपा के पास 3  और कांग्रेस के पास 2 सीटें हैं। मालवांचल सहित पूरे प्रदेश में सबसे बड़ी जीत मालवा के हिस्से ही आई। इंदौर से रमेश मेंदोला के बाद रतलाम से चेतन काश्यप ने बड़े अंतर के साथ जीत दर्ज की।

सत्ता विरोधी लहर के बावजूद काश्यप पिछली बार की तुलना में ज्यादा मत लेकर आए, जो रतलाम की जनता की उनके विकास पर मोहर है। इस बंपर जीत का श्रेय उन्होंने रतलाम की जनता को देते हुए युवाओं के लिए अपनी प्राथमिकताएं बताई।

भाजपा की धन्यवाद रैली कॉलेज से शुरू होते हुए चांदनी चौक, शहर सराय, राम मन्दिर होते हुए काश्यप के निवास पर समाप्त हुई। वहां उन्होंने जनता को संबोधित किया।

रतलाम की जनता एक ओर जहां काश्यप की जीत से उत्साहित नज़र आई वहीं दूसरी तरफ प्रदेश में भाजपा को बहुमत न मिलने का दुख भी जनता के चेहरे पर साफ दिखाई दिया। काश्यप के इस चुनाव अभियान से पूर्व गृहमंत्री हिम्मत कोठारी ग्रुप ने शुरू से दूरी बनाए रखी, उसके बाद भी काश्यप की शानदार जीत से उनका कद प्रदेश की राजनीति में बढ़ना तय है।

MP LIVE: सीएम पद के लिए खींचतान

शिवराज का मप्र की राजनीति से अध्याय खत्म

हार के बाद बोले- कांग्रेस प्रत्याशी अश्विन जोशी

Share.