website counter widget

image1

image2

image3

image4

image5

image6

image7

image8

image9

image10

image11

image12

image13

image14

image15

image16

image17

image18

आतंकी घटना नहीं सड़कों के गड्ढों के कारण ज्यादा मौत

0

भारत में सड़कें कम और उनमें गड्ढे ज्यादा दिखाई देते हैं| सरकार द्वारा सड़कें बनाई जाती हैं, लेकिन बहुत कम समय में वहां गड्ढे दिखने लगते हैं, जिसके कारण हादसे भी अधिक होते हैं| अब इस बारे में सुप्रीम कोर्ट ने सख्त टिप्पणी की है| कोर्ट की ओर से कहा गया है कि आतंकियों के मारे जाने से ज्‍यादा लोग सड़कों पर गड्ढों के कारण मर रहे हैं|

सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को 2013-2017 के बीच सड़कों पर गड्ढों के कारण 14,926 से ज्यादा लोगों की मौत पर सख्‍त टिप्‍पणी करते हुए कहा कि आतंकियों के मारे जाने से ज्‍यादा लोग सड़कों पर गड्ढों के कारण मर रहे हैं| पिछले पांच वर्ष में सड़कों पर हुए गड्ढों के कारण मरने वालों की संख्या सीमा पर या आतंकवादियों द्वारा की गई हत्याओं से ज्यादा है| इस बारे में कोई सख्ती नहीं बरती जा रही है| ये हादसे लापरवाही के कारण होते हैं, जिनका शिकार मासूम जनता बन जाती है|

न्यायालय की ओर से कहा गया कि सड़क पर गड्ढों के कारण हो रहे हादसों से लगता है कि अधिकारी सड़कों की देखरेख नहीं कर रहे हैं| इस संबंध में न्यायालय ने जवाब मांगा है| उनका कहना है कि कई जगह तो गड्ढे इतने ज्यादा हैं कि बताना मुश्किल हो जाता है कि गड्ढों में सड़क है या सड़क में गड्ढे|

जानकारी के अनुसार, भारत में सड़कों पर गड्ढों के कारण रोज लगभग 10 लोगों की मौत हो जाती है| वर्ष 2017 में आतंकी हमलो में 803 लोगों की मौत हुई थी वहीं सड़क हादसों के कारण वर्ष 2017 में 3579 मौत हुई थीं| वर्ष 2016 में सड़क हादसों के कारण 2324 लोगो की मौत हुई थी| सड़क हादसों में उत्तरप्रदेश और मध्यप्रदेश का नाम सबसे पहले आता है|

सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की जिओ की याचिका

अमृतसर ट्रेन हादसे में सिद्धू को क्लीनचिट

मप्र राजनीति : दो खबरें, जो आपको पढ़नी चाहिए

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.