ये तस्वीरें देश में इंदौर का नाम बदनाम कर देंगी

0

देश में लगातार सामने आ रहे कोरोना के मामलों के बीच मध्यप्रदेश का इंदौर शहर के ऐसे शहर में कोरोना के मामले तेज़ी से सामने आए हैं। ऐसे में शहर के लोगों से उम्मीद थी कि वे संकट की इस घड़ी में प्रशासन, पुलिस और डाॅक्टरों की टीम का सहयोग करेंगे, लेकिन इंदौर के लोग इन इस वक्त जिस मूर्खता का परिचय दिया वह पूरे देश में इंदौर का नाम खराब कर रहा है।

इंदौर के कुछ इलाके जैसे रानीपुरा, सिलावटपुरा, खातीपुरा, ईमलीबाज़ार और टाटपट्टी बाखल जैसे इलाकों में कोरोना संक्रमित लोगों के केस ज्यादा सामने आ रहे है।। इसे ध्यान में रखते हुए प्रशासन द्वारा लोगों की जांच करवाई जा रही है। लेकिन यहां भय के बीच जी रहे लोग इसे भी अपने खिलाफ मान रहे हैं। गुरुवार को जब इंदौर के टाटपट्टी बाखल में डाॅक्टरों की टीम लोगों की जांच करने पहुंची तो लोगों ने डाॅक्टरों पर ही पथराव किया और उन्हें मारने की कोशिश की। इस घटना के वीडिया ेअब सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं।

ये तस्वीरें देखकर आप खुद ही सोचिए कि इंदौर का नाम देश में अब किस रुप में लिया जा रहा होगा। जो डाॅक्टर आपकी मदद करने के लिए आपके बीच पहंुच रहे हैं, उन्हें दुश्मन समझना आपके लिए कितना सही है।

इंदौर शहर ने पहले भी कोरोना के मामले में भारी लापरवाही की है। इससे पहले जब प्रधानमंत्री ने अपील की थी कि हमें एक दिन के जनता कफ्र्यू का पालन करना है, लेकिन तब भी इंदौर के लोग भारी संख्या में राजवाड़ा पर इकट्ठा हो गए थे। और आज पत्थरबाज़ी की घटना ने एक बार फिर यह दिखा दिया है कि जहां एक ओर पूरा देश इंदौर को सबसे साफ शहर के रुप में जानता है। वहां के लोग अब इसे देश के सबसे बीमार, सबसे उद्दंड, सबसे नालायक शहर की गिनती में शामिल करवाने की तैयारी में हैं।

-Rahul Kumar Tiwari

Share.