इंदौर: क्यों साइकिल से निकले महेंद्र हार्डिया?

0

मध्यप्रदेश के इंदौर में बाबा के नाम से पहचाने वाले भारतीय जनता पार्टी के विधायक महेंद्र हार्डिया साइकिल पर सवार दिखे| दरअसल, वे साइकिल पर सवार होकर अपनी पार्टी के कार्यकर्ता के घर पहुंचे और साइकिल कार्यकर्ता को भेंट की| बाबा  के इस अपनत्व के चर्चे अब लोगों की जुबान पर है बाब यानी महेंद्र  हार्डिया  को कुछ दिन पूर्व गोमा की फेल निवासी एक पेंटर श्याम मालोदिया  ने रुस्तम के बगीचे में बिजली बिल माफी योजना में अपनी पीड़ा बताई थी उसके पास साइकिल नही है|

जब उन्हें यह पता चला की कार्यकर्ता के पास साइकिल नहीं है तब ही उन्होंने यह ठान लिया कि वह कार्यकर्ता को साइकिल भेंट करेंगे| इसके बाद वह साइकिल लेकर मंडल अध्यक्ष नन्द किशोर पहाड़िया के साथ उसके घर पहुँच गये|

गौरतलब है कि इसके पहले विधायक महेंद्र हार्डिया ने पार्षद से तू-तू  मैं-मैं की थी, जिसके बाद विपक्ष ने उन पर जमकर तंज कसे थे| भाजपा पार्षद और विधायक बीच चौराहे पर एक दूसरे को लेकर अभद्र भाषा का प्रयोग करते रहे थे| मूसाखेड़ी गांव और सीतलामाता मंदिर चौराहा से आने वाले रास्ते पर नगर निगम द्वारा ड्रेनेज लाइन डाली जा रही थी, जिसका काम पार्षद सुभाष चौधरी करवा रहे थे| जिस जगह से लाइन जा रही है, वहां पर भाजपा के ही मंडल अध्यक्ष सुनील वर्मा की दुकान थी| इसी को लेकर दोनों के बीच कहा सुनी हो गई थी| इस हंगामें के बाद जैसे तैसे भाजपा के ही कार्यकर्ताओं ने बात को संभाला और दोनों को वहां से हटाया था|

Share.