अब जवाहर प्रेमी बने गडकरी, देखें video

0

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी आजकल अपने बयानों के कारण सुर्ख़ियों में बने हुए हैं| पहले उन्होंने भाजपा को तीन राज्यों में मिली हार की ज़िम्मेदारी तय करने वाला विवादित बयान दिया था, जिसके बाद सफाई भी दी थी और अब एक और बयान के कारण चर्चा में आ गए हैं| दरअसल, एक कार्यक्रम में नितिन गडकरी ने जवाहरलाल नेहरू के भाषणों की तारीफ की और खुद को उनके भाषणों का मुरीद बताया|

अपने भाषण में उन्होंने जवाहरलाल नेहरू की तारीफ़ करते हुए कहा, “सिस्टम को सुधारने को दूसरे की तरफ अंगुली क्यों करते हो, अपनी तरफ क्यों नहीं करते हो| जवाहरलाल नेहरू कहते थे कि इंडिया इज़ नॉट ए नेशन, इट इज़ ए पॉपुलेशन| इस देश का हर व्यक्ति देश के लिए प्रश्न है, समस्या है| उनके भाषण मुझे बहुत पसंद हैं तो मैं इतना तो कर सकता हूं कि मैं देश के सामने समस्या नहीं बनूंगा|”

गडकरी के इस बयान पर कई लोगों की प्रतिक्रिया आणि शुरू हो गई है| गौरतलब है कि उन्होंने अपने एक भाषण में कहा था, “यदि मैं पार्टी का अध्यक्ष हूं और मेरे सांसद या विधायक अच्छा नहीं करते हैं तो जिम्मेदार कौन होगा?” इस बयान के बाद उन्होंने सफाई भी दी थी| उन्होंने कहा, “हमेशा के लिए साफ कर देना चाहते हैं कि मेरे और भाजपा नेतृत्व के बीच में दरार पैदा करने की साजिश कभी कामयाब नहीं होगी| मैंने अपनी पोजिशन विभिन्न फोरम पर स्पष्ट की है और आगे भी करता रहूंगा और हमारे विरोधियों के नापाक मंसूबों को उजागर करता रहूंगा|”

मुझे नहीं बनना प्रधानमंत्री : गडकरी

गडकरी: सत्ता में आने के लिए हम ने बड़े-बड़े वादे किए

गडकरी का आत्मघाती बयान !

Share.