मंत्री मंजू वर्मा ने नीतीश कुमार को सौंपा इस्तीफ़ा

0

मुजफ्फरपुर कांड के मामले में बिहार की समाज कल्याण मंत्री  मंजू वर्मा ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को अपना इस्तीफ़ा सौंप दिया है| मुजफ्फरपुर कांड  को लेकर उन पर लगातार दबाव बढ़ रहा था, जिस वजह से उन्होंने इस्तीफ़ा देने का फैसला किया|बता दें कि विपक्षी पार्टियां मंजू वर्मा के इस्तीफे की मांग लगातार कर रही थीं, जिसके बाद आज मंजू वर्मा ने इस्तीफा दे दिया है| मंजू वर्मा ने कल स्वीकार किया था कि उनकी बालिका गृह मामले के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर से बात होती थी|

मंत्री वर्मा के इस्तीफे के लिए नीतीश कुमार पर लगातार निशाना साधा जा रहा था| नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव लगातार नीतीश कुमार पर मंत्री और अधिकारियों को बचाने का आरोप लगा रहे थे|

लगातार बढ़ते दबाव के बाद मंजू वर्मा ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात करने के बाद इस्तीफा दिया है| ऐसा माना जा रहा था कि फोन कॉल्स के खुलासे के बाद से मंत्री मंजू वर्मा की मुश्किलें बढ़ सकती हैं| हालांकि इससे पहले मंत्री वर्मा ने भी कहा था कि यदि मैं इस्तीफा दूंगी तो मेरे पति आरोपी हो जाएंगे|

ब्रजेश ठाकुर ने कोर्ट जाने से पहले मीडिया से अपने बयान में कहा है कि उन पर लगे सभी आरोप झूठे  और निराधार हैं| उन्होंने कहा कि उन्हें राजनीति के तहत फंसाया जा रहा है| वह मुजफ्फरपुर से चुनाव लड़ने का मन बना रहे थे और वह कांग्रेस में जाना चाहते थे इसलिए उन्हें फंसाने की साजिश रची गई है|

मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर ने पिछले पांच महीने में समाज कल्याण मंत्री के पति चंद्रशेखर वर्मा से कुल 17 बार बात की है| दोनों के बीच बातचीत का सिलसिला जनवरी से शुरू हुआ था| ब्रजेश ठाकुर ने इस बात का खुलासा किया| इतना ही नहीं दोनों कई बार साथ-साथ दिल्ली भी जा चुके हैं|

Share.