गाजियाबाद बारिश : सड़कें धंसी, इमारतें गिरी और…

0

दिल्ली-एनसीआर में गुरुवार की सुबह से ही भारी बारिश हो रही है| बारिश ने पूरे शहर की तेज़ रफ़्तार को कम कर दिया है| गाजियाबाद के वसुंधरा में जमीन धंस गई, जिससे उस रास्ते पर भी लंबा जाम लगा हुआ है| जमीन धंसने के बाद प्रशासन ने सुरक्षा को देखते हुए प्रज्ञाकुंज और वार्तालोक के करीब 64 फ्लैटों के साथ मेवाड़ कॉलेज को भी खाली करव दिया है| मौके पर एनडीआरएफ और पुलिस प्रशासन पहुंच गया है| वहां बचाव एवं राहत कार्य किया जा रहा है|

वहीं ग्रेटर नोएडा में तीन मंजिला इमारत गिर गई तो गाजियाबाद की अशोक वाटिका इलाके में मकान ढह गया| इन सभी घटाओं से लोग डरे हुए हैं| दरअसल, सूरजपुर कोतवाली क्षेत्र के मुबारकपुर गांव में तीन मंजिला इमारत गिर गई, जिससे मलबे में तीन लोग दब गए, जिन्हें सुरक्षित बाहर निकाला गया| पीड़ित ओमपाल अपने परिवार के साथ मकान में रहते हैं। उनका कहना है कि इमारत के पास बन रही कंपनी ने गड्ढा किया हुआ है, जिसमें पानी भरने से मकान की दीवार रोज़ कमजोर हो रही थी, जो गुरुवार को भारी बारिश के बाद गिर गई|

वहीं साहिबाबाद क्षेत्र की अशोक वाटिका कॉलोनी में एक मकान का आधा हिस्सा गिर गया| इसमें भी किसी के  हताहत होने की खबर नहीं है| भारी बारिश के कारण सड़कों ने नदी का रूप ले लिया है| सड़क ब्रिजों पर भी पानी भरा हुआ है| सड़कों पर जलभराव की वजह से भारी जाम लगा हुआ है| वाहन रेंगते हुए चलने पर मजबूर हैं|

बारिश का क़हर राजधानी के साथ गुरुग्राम, नोएडा, गाजियाबाद, फरीदाबाद और साहिबाबाद में भी दिखा| जहां एक ओर बारिश के बाद लोगों को उमस से राहत मिली वहीं बारिश ने जनजीवन अस्त-व्यस्त कर दिया| कश्‍मीरी गेट, द्वारका, धौलाकुआं और मूलचंद फ्लाइओवर सहित कई जगहों में भी जाम लगा हुआ है| बारिश के कारण गुरुग्राम में भी एक बार फिर भारी जाम देखने को मिला| ऐसा जाम दो वर्ष पहले जुलाई 2016 में जोरदार बारिश के बाद लगा था, उस समय गुरुग्राम में 12 घंटों का लंबा जाम लग गया था|

Share.