शपथ ग्रहण में आने से मना करने वाली ममता को कैलाश ने कहा …

0

कल यानी गुरूवार को नरेंद्र मोदी दूसरी बार भारत के पीएम पद के लिए शपथ ग्रहण करेंगे | इस शपथ ग्रहण समारोह में कुल 6 हजार से ज्यादा देशी-विदेशी मेहमान आएंगे | इनमे बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Kailash Vijayvargiya On Mamata Banarjee) का नाम भी शामिल है | लेकिन नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में आने कि हामी भरने वाली ममता ने अब आने से मना कर दिया है|

अब इस पर बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya On Mamata Banarjee) ने उन्हें जवाब दिया है कि आना या ना आना उनके ऊपर है, लेकिन समारोह में किसे बुलाना है ये हमारा अधिकार है| पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (mamata banerjee) ने नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण में आने से इनकार कर दिया है, जबकि पहले उन्होंने इस हेतु रजामंदी दी थी|

मोदी और जिनपिंग की होगी मुलाक़ात

ममता (Kailash Vijayvargiya On Mamata Banarjee) ने एक चिट्ठी जारी कर लिखा है कि भाजपा ने इस कार्यक्रम में मृत बीजेपी कार्यकर्ताओं के परिवार वालों को बुलाया है और इसे राजनीतिक हत्या करार दिया है| ममता ने कहा है कि ये राजनीतिक हत्या नहीं है, बल्कि आपसी रंजिशों के मसले हैं|ममता बनर्जी ने चिट्ठी में लिखा है, ‘बधाई, नए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी. आपके संवैधानिक आमंत्रण को मैंने स्वीकार कर लिया था और आपके शपथ ग्रहण समारोह में मैं आने को तैयार थी| लेकिन पिछले कुछ समय में मैंने रिपोर्ट्स देखी हैं कि भारतीय जनता पार्टी कह रही है कि उन्होंने भाजपा के उन 54 कार्यकर्ताओं के परिवार को भी न्योता दिया है जिनकी बंगाल में राजनीतिक हत्या कर दी गई है|’

Indore की बीजेपी विधायक ने गोडसे को लेकर क्या कह दिया ?

ममता (mamata banerjee) ने लिखा कि ये बिल्कुल झूठ है, बंगाल में कोई राजनीतिक हत्या नहीं हुई है| ये हत्याएं आपसी रंजिश, पारिवारिक लड़ाई और अन्य मसलों की वजह से हुई है| इनका राजनीति से कोई लेना-देना नहीं है, ऐसा कोई रिकॉर्ड भी नहीं है| उन्होंने लिखा कि सॉरी नरेंद्र मोदी जी, इसी वजह से मैं आपके शपथ ग्रहण समारोह में शामिल नहीं हो पाउंगी| ये समारोह लोकतंत्र का जश्न मनाने वाला था, लेकिन किसी एक राजनीतिक दल को नीचा दिखाने वाला नहीं है| मुझे क्षमा करें|

गर्मी से 50 से अधिक लोगों की मौत, Orange Alert जारी

Share.