20 हजार किसान पहुंचे मुंबई, शुरू हुआ प्रदर्शन

1

किसानों का मार्च शुरू हो गया है| अपनी मांगों को लेकर लगभग 20 हजार किसान और आदिवासी लोक संघर्ष समिति के बैनर तले मुंबई पहुंचे| किसानों का यह मार्च दो दिन तक चलेगा|  मार्च मुलुंड से निकलकर आज़ाद मैदान तक पहुंचेगा, जहां रैली का समापन किया जाएगा| इससे पहले मार्च में भी 25 हजार किसान एक साथ नासिक से मुंबई पहुंचे थे|

किसानों की मांग

किसान मुख्य रूप से लोड शेडिंग की समस्या का निवारण चाहते हैं| इसके अलावा  सूखे से राहत, वनाधिकार कानून लागू करवाना, न्यूनतम समर्थन मूल्य और स्वामीनाथन रिपोर्ट लागू करने की मांगें किसानों द्वारा रखी गई हैं| किसान समिति का कहना है कि पिछली बार जब प्रदर्शन किया गया था, उसे 9 महीने हो गए हैं, लेकिन अभी तक हमें दिए गए आश्वासन पूरे नहीं हुए हैं|

आंदोलन को समर्थन

किसानों के इस आंदोलन को सामाजिक कार्यकर्ता संगठन और अन्य संगठनों का समर्थन मिला है| उनका कहना है कि यदि अभी भी हमारी मांगें नहीं मानी जाती है तो आंदोलन को और आगे बढ़ाया जा सकता है| महाराष्ट्र के किसान हर साल आत्महत्या करते हैं| इस विषय में सरकार को सोचना चाहिए| इसके पहले मार्च महीने में हुई किसानों की हड़ताल को लेकर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा था कि सरकार उनके मुद्दों को सुलझाएगी| सरकार उनकी मांगों को लेकर सकारात्मक है| उनकी मांगों पर चर्चा के लिए हमने मंत्रियों की एक समिति बनाई है, लेकिन अभी तक इस विषय में कोई भी निर्णय नहीं लिए गए|

Share.