परमहंस : मैं मंदिर के लिए प्राण दूंगा…

0

अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण को लेकर मुद्दा गरमा गया है| इस मुद्दे को लेकर अब लोग जान देने पर भी राजी हो गए हैं| दरअसल, मंदिर निर्माण की मांग को लेकर हफ्तों तक आमरण अनशन करने वाले तपस्वी छावनी के महंत परमहंस का कहना है कि यदि मंदिर निर्माण नहीं किया गया तो वे 6 दिसंबर को मंदिर के लिए प्राण देंगे|  

उन्होंने कहा, “योगी सरकार और मोदी सरकार ने उन्हें धोखा देकर उनका अनशन तुड़वाया था| लिहाजा मंदिर नहीं बनने पर अब उनके पास आत्मदाह के अलावा कोई रास्ता नहीं है|” परमहंस ने आत्मदाह के लिए चिता का निर्माण भी करवा लिया है और खुद ही उसकी पूजा भी कर दी|

मैं मंदिर के लिए प्राण दूंगा

परमहंस का कहना है कि मैं मंदिर निर्माण के लिए अपने प्राण त्याग दूंगा| उन्होंने योगी पर भरोसा कर गलती की, क्योंकि न तो अभी तक महंत को योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलवाया और न ही मंदिर निर्माण के लिए कोई पहल की| जिस तरह से गंगा की स्वच्छता के लिए प्रोफेसर जीडी अग्रवाल ने अपने प्राण त्यागे थे, उसी तरह मंदिर निर्माण के लिए वह भी अपने प्राण त्याग देंगे| संत दास के मुताबिक, शायद इसके बाद ही सरकार की आंखें खुलेगी और मंदिर निर्माण का रास्ता साफ होगा|

सबके साथ से बनेगा मंदिर : उद्धव ठाकरे

अयोध्या के लक्ष्मण किला मैदान में शिवसेना कार्यकर्ताओं के साथ आशीर्वाद कार्यक्रम के शिवसेना के अध्यक्ष उद्धव ठाकरे पहुंच चुके हैं| उन्होंने कहा, “मुझे राम मंदिर का श्रेय नहीं चाहिए हम मिलकर राम मंदिर बनाएंगे| जब सब साथ आएंगे तो जल्दी बनेगा मंदिर, अदालत के फैसले से पहले कानून लाए सरकार| केंद्र की मजबूत सरकार मंदिर पर कानून लाए, मंदिर बनने पर रामभक्त की तरह दर्शन के लिए आउंगा| केंद्र की मजबूत सरकार मंदिर पर कानून लाए, मंदिर बनने पर रामभक्त की तरह दर्शन के लिए आउंगा|”

Share.