इंदौर में सांवरिया ग्रुप आया सफाई में आगे..

0

मध्यप्रदेश की व्यवसायिक राजधानी इंदौर को दो बार पूरे देश में स्वच्छता में नंबर वन का तमगा मिल चुका है| शहर की सफाई व्यवस्था और तकनीक की देश में ही नहीं बल्कि विदेश में भी तारीफ़ की जाती है, लेकिन अब शायद नगर निगम के जिम्मेदारों की नजर गन्दगी की ओर नहीं जा रही है| शायद उनका ध्यान अब सभी जगह नहीं जा पा रहा है|

सफाई में नंबर वन आने वाले शहर के नागरिक और कई संगठन भी शहर की सफाई व्यवस्था बनाए रखने के लिए आगे आ रहे हैं| ऐसे ही शौचालयों को साफ़ करने का अभियान सामाजिक संगठन सांवरिया सेठ के साथ कांग्रेस और सम्पूर्ण समाज पार्टी के सदस्यों ने चलाया|

दरअसल, गौरीनगर चौराहे के पास शौचालय की सफाई करने के लिए सांवरिया सेठ के साथ कांग्रेस और सम्पूर्ण समाज पार्टी के सदस्य भी पहुंचे| संगठन के एक सदस्य ने कहा कि यदि शहर की गन्दगी पर जिम्मेदार लोगों की नजर नहीं पड़ती है तो हम भी आगे आकर अभियान चला सकते हैं और शहर की सफाई को बरक़रार रखेंगे| लोगों को भी आगे आना होगा और सफाई में अपना योगदान देना होगा|

एबी रोड महिंद्रा के शो रूम के पास सड़क किनारे शौचालय की हालत खराब है, उसके दरवाजे भी टूटे हुए हैं| वहां के निवासियों की शिकायत है कि नगर निगम को कई बार इस संबंध में शिकायते की लेकिन अभी तक कार्रवाई नहीं हुई| इसके बाद वहां पर सांवरिया सदस्यों ने सफाई की| ऐसे ही संगठन मिकला शहर में कई स्थानों की सफाई में जुटे हुए हैं जहां पर सफाई की जरूरत हैं और नगर-निगम अनदेखी कर रही है| अब यह सवाल उठाये जा रहे हैं कि जब नगर निगम सफाई व्यवस्था पर ध्यान देना बंद कर देगा तो क्या फिर से उसे सफाई में नंबर आने का तमगा मिलेगा|

Share.