दिव्यांग खिलाड़ियों को मप्र सरकार देगी 3 करोड़

0

आज के दौर में दिव्यांग किसी से भी कम नहीं हैं। वे हर जगह अपना लोहा मनवा रहे हैं। अपनी प्रतिभा के बल पर देश का नाम रोशन कर रहे हैं। इनके हौसलों को देखते हुए शिवराज सरकार ने दिव्यांग खिलाड़ियों के लिए नई खेल नीति बनाई है। इसके तहत अब अंतरराष्ट्रीय पैरालिंपिक खेलों में गोल्ड मेडल जीतने वाले प्रदेश के खिलाड़ियों को तीन करोड़ रुपए का पुरस्कार दिया जाएगा। वहीं सिल्वर मेडल जीतने पर दो करोड़ और ब्रॉन्ज मेडल पर एक करोड़ रुपए दिए जाएंगे। इसे जल्द ही कैबिनेट में रखा जाएगा।

मसौदा तैयार

खेल एवं युवक कल्याण विभाग ने नीति का मसौदा तैयार किया है। इसे लेकर दिव्यांगों के लिए कार्य करने वाले प्रमुख लोगों के साथ विचार-विमर्श भी किया गया है। सामान्य खिलाड़ियों के लिए होने वाले ओलिंपिक खेलों में भी सरकार ने इसी तरह के पुरस्कारों की घोषणा की है।

सरकारी नौकरी भी मिलेगी

प्रस्तावित नीति के तहत दिव्यांग खिलाड़ियों को सरकारी नौकरी भी मिलेगी। सरकार दिव्यांग खिलाड़ियों को एकलव्य अवॉर्ड देने पर भी विचार कर रही है। हालांकि इस पर अभी कोई फैसला नहीं हुआ है। अभी दिव्यांग खिलाड़ियों को एकलव्य अवॉर्ड नहीं दिया जाता है। इसके साथ ही दिव्यांग खिलाड़ियों के कोच को भी पुरस्कार दिया जाएगा। खेलवृत्ति भी दी जाएगी।

सरकार दिव्यांग खिलाड़ियों को खेलवृत्ति भी देगी। नीति में यह प्रावधान भी किया जा रहा है। इसके साथ ही दिव्यांग खिलाड़ियों के लिए प्रतिभा खोज जैसी प्रतियोगिताएं और विभिन्न खेल प्रतियोगिता में सरकार मदद करेगी।

यह खबर भी पढ़े – दिव्यांगों को नहीं मिला लैपटॉप

यह खबर भी पढ़े – 4 अगस्त को प्रदेशभर में स्व रोजगार मेला

यह खबर भी पढ़े – मंच से नीचे गिरे सीएम शिवराज

Share.