पर्यावरण के लिए जुटे विश्व के विचारक

0

संयुक्त राष्ट्र संघ की आठवीं अंतरराष्ट्रीय ‘रीजनल थ्री आर फोरम इन एशिया एंड द पेसिफिक’ कॉन्फ्रेंस मंगलवार को इंदौर में शुरू हुई| आयोजन की थीम थ्री-आर यानी रीसाइकल, रीयूज़ एंड रिड्यूस की है यानी विश्व पर्यावरण के लिए साफ पानी, साफ जमीन और साफ हवा का प्रबंध करना। आयोजन में 40 देशों के 400 से ज्यादा प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया|

कॉन्फ्रेंस के उद्घाटन समारोह में लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन, केंद्रीय शहरी विकास राज्यमंत्री हरदीपसिंह पुरी, प्रदेश की नगरीय प्रशासन मंत्री मायासिंह, जापान के पर्यावरण राज्यमंत्री टाडाहिको, भारत सरकार के केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय के सचिव दुर्गाशंकर मिश्रा, यूनाइटेड नेशंस की आर्थिक मामलों की अधिकारी बिरगिटे ब्रयल्ड आदि शामिल हुए|

कांफ्रेंस के शुभारंभ सत्र में केंद्रीय स्वच्छ्ता और पेयजल मंत्री हरदीप पुरी ने स्वच्छता को लेकर देश में सरकार द्वारा किए जा रहे कार्यों को दुनियाभर के प्रतिनिधियों के बीच रखा|  उन्होंने कहा कि 2019 तक स्वच्छ्ता को लेकर जो लक्ष्य लिया है, उसे जरूर पूरा किया जाएगा|

लोकसभा स्पीकर ने भी इंदौर में आयोजित इस सम्मेलन को लेकर ख़ुशी जाहिर की| उन्होंने इंदौर को प्राकृतिक धरोहरों का शहर बताया| उन्होंने कहा कि इंदौर में स्वच्छ्ता को लेकर लोगों में जो उत्साह है और यही इस अभियान की सफलता है| इंदौर में आयोजित इस कॉन्फ्रेंस में भारत के 100 शहरों के महापौर और अन्य प्रतिनिधि भी शामिल हुए| सभी प्रतिनिधियों ने इंदौर की मेजबानी और यहां की व्यवस्थाओं की तारीफ की|

प्रदर्शनी में दिखा रीसाइकलिंग का इस्तेमाल

इंदौर में आयोजित 3 आर रीजनल कांफ्रेंस में ‘थ्री-आर’ कंसेप्ट पर आधारित प्रदर्शनी का भी आयोजन किया गया| मुख्यअतिथि सुमित्रा महाजन, हरदीप पुरी और मंत्री माया सिंह ने प्रदर्शनी का उद्घाटन किया| प्रदर्शनी में ‘थ्री-आर’ से संबंधित कंपनियों, नगरीय निकायों और संस्थाओं के लगभग 80 स्टॉल लगाए गए|

विदेशों से भी आए कई प्रतिनिधियों ने भी इस प्रदर्शनी में अपने उत्पाद प्रस्तुत किए| प्रदर्शनी के सभी उत्पाद लगभग जैविक पदार्थों को बढ़ावा देने और उनके उपयोग को प्रोत्साहित करने के लिए नज़र आए| कार्यक्रम में शामिल हुए मुख्य अतिथि केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी ने बताया कि भारत अब पर्यावरण के क्षेत्र में बेहतर कार्य कर रहा है और आने वाले दिनों में पूरी दुनिया इसका अनुसरण करेगी|

Share.