विकास दुबे: पिछले आठ दिनों का सिलसिलेवार घटनाक्रम देखे यहाँ

0

उत्तर प्रदेश के मोस्ट वांटेड अपराधी विकास दुबे की कहानी किसी फिल्म की कहानी से कम नहीं है. आज से ठीक 8 दिन पहले विकास दुबे (Vikas Dubey Encounter Story) ने 8 पुलिसवालों की हत्या कर दी जिसके बाद से वह फरार था. पुलिस की 20 से अधिक टीमों ने लगातार 8 दिन तक उसकी छानबीन उत्तर प्रदेश के सभी बड़े शहरों के साथ-साथ आसपास के राज्यों में भी की लेकिन कुछ पता नहीं चला.

इस बीच पुलिस ने उसके कई साथियों जिनमें अमर दुबे नाम का उनका राइट हैंड भी शामिल है को अपनी गोली का निशाना बनाया. रिश्तेदारों से पूछताछ की. पुलिस को यह भी पता चला कि पुलिस काफिले के लगभग 200 सिपाही और कुछ आला अधिकारी भी उसके साथ मिले हुए थे .

गैंगस्टर विकास दुबे का पुलिस ने किया एनकाउंटर

Kanpur Shootout : Police is near to arrest Vikas Dubey who killed ...

इसके बाद भी सिलसिला चलता रहा खोजबीन जारी रही और अचानक वह हरियाणा के फरीदाबाद शहर में नजर भी आया, लेकिन यहां भी पुलिस उसे पकड़े तब तक निकल चुका था .अंत में इस घटना के सातवें दिन उसने मध्य प्रदेश के उज्जैन शहर में जाकर प्रसिद्ध महाकाल मंदिर के दर्शन किए और खुद ही आत्मसमर्पण कर दिया .

पूरे घटनाक्रम को सिलसिलेवार तरीके से जानने के लिए पूरी रिपोर्ट देखें (Vikas Dubey Encounter Story)-

2-3 जुलाई की दरमियानी रात विकास दुबे ने कानपुर जा रही पुलिस को अपना निशाना बनाया इस हमले में 8 पुलिसकर्मियों की हत्या की गई. 3 जुलाई को पुलिस ने कानपुर के बिकरू गाँव में उसके  चाचा प्रेम प्रकाश पांडे और अतुल दुबे का एनकाउंटर किया.

बड़ी खबर विकास दुबे मध्य प्रदेश के उज्जैन से गिरफ्तार

कानपुर मुठभेड़: चौबेपुर थाने में ...

4 जुलाई को पुलिस अधिकारी ने जेसीबी के द्वारा विकास दुबे का वह घर गिरा दिया जहां से पुलिस पर हमला किया गया था साथ ही इसी दिन पुलिस ने विकास दुबे को पकड़ने के लिए 25 टीमों का गठन भी किया.

कानपुर मुठभेड़ के बाद विकास दुबे पर ...

6 जुलाई को उत्तर प्रदेश पुलिस ने विकास दुबे पर ढाई लाख रुपए के इनाम का ऐलान किया और साथ ही पूरे प्रदेश की सीमाओं को सील कर दिया .इस बीच कुछ पुलिसकर्मियों के विकास कर विकास दुबे से मिले होने की खबर आई इसके चलते दो सब इंस्पेक्टर और एक कांस्टेबल सहित तीन पुलिसकर्मी निलंबित किए गए.

विकास दुबे का खास अमर दुबे ढेर, मामले में अब तक जो कुछ हुआ देखे यहाँ

Kanpur Encounter Investigation will be against DIG Anant Deo of ...

7 जुलाई को विकास दुबे हरियाणा के फरीदाबाद शहर में देखा गया लेकिन यहां वह पुलिस से बचने में कामयाब रहा.

8 जुलाई को उत्तर प्रदेश के पुलिस इंस्पेक्टर विनोद तिवारी को निलंबित किया गया इसी दिन विकास दुबे पर ढाई लाख के इनाम को बढ़ाकर 5 लाख भी कर दिया गया. साथ ही फरीदाबाद के होटल में छापा मारा गया, लेकिन पुलिस के हाथ इस बार भी खाली थे .विकास दुबे पुलिस के आने से पहले ही एक ऑटो में बैठ कर वहां से निकल चुका था .

पुलिस ने तलाश जारी रखी और विकास दुबे के राइट हैंड माने जाने वाले अमर दुबे को एक मुठभेड़ में मार गिराया. विकास दुबे का एक अन्य करीबी प्रभात मिश्रा भी इसी दिन पुलिस की गोली का शिकार हुआ .

Amar Dubey right hand of Vikas Dubey killed encounter in Hamirpur ...

9 जुलाई को विकास दुबे का एक और खास गुर्गा बब्बन शुक्ला इटावा में पुलिस के निशाने पर आया. बब्बन पर पुलिस ने 50 हजार  का इनाम रखा था.

9 जुलाई इस घटनाक्रम का सबसे अहम दिन कहा जा सकता है इस दिन मध्य प्रदेश के उज्जैन शहर में महाकाल मंदिर से विकास दुबे ने खुद को पुलिस के हवाले किया. उज्जैन पुलिस ने विकास दुबे की आधिकारिक गिरफ्तारी नहीं दिखाते हुए उसे यूपी एटीएस की टीम के हवाले कर दिया.इसी दिन एटीएस की टीम विकास दुबे को लेकर कानपुर के लिए निकल पड़ी.

Vikas Dubey Arrested in Ujjain : How did the police caught him ...

10 जुलाई इस पूरे घटनाक्रम का क्लाइमेक्स  कहा जा सकता है जब एटीएम का काफिला हाईवे से होते हुए कानपुर नगर की सीमा के पास पहुंचा ही था कि अचानक सुबह 6:32 पर हाईवे नाका से कुछ दूरपहले ही  पुलिस की गाड़ी पलटी खा गई पुलिस के अनुसार विकास दुबे ने इस दौरान भागने की कोशिश की और पुलिसकर्मियों पर गोली चलाई जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने उसका एनकाउंटर कर दिया .खून से लथपथ विकास दुबे जब कानपुर के  अस्पताल पहुंचा तो वहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया

Vikas Dubey Killed in Encounter: विकास दुबे ...

Vikas Dubey Kanpur Encounter Live Updates - Vikas Dubey Encounter ...

Share.