यूनिवर्सिटी की लचर व्यवस्था का खुलासा

0

देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी में हो रही लापरवाहियों की ख़बरें लगातार सामने आती रहती हैं| उच्च शिक्षा जहां एक ओर प्रदेश के लिए सबसे अहम् मुद्दा है वहीं प्रदेश की इस महत्वपूर्ण यूनिवर्सिटी की कई विफलताएं ख़बरों में आ रही हैं| यूनिवर्सिटी की व्यवस्थाओं में गड़बड़ी से विद्यार्थी भी परेशान हो रहे हैं|

देवी अहिल्या विश्वविद्यालय की परीक्षाओं को लेकर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहे हैं| विश्वविद्यालय में परीक्षाओं का स्तर लगातार गिरता जा रहा है| बीए की परीक्षा में विद्यार्थियों को हस्तलिखित पेपर थमा दिया गया|  इसकी फोटोकॉपी भी इतनी घटिया थी कि पूरा पेज भी कॉपी नहीं हुआ और छात्रों को बड़ी समस्या के साथ ही परीक्षा देना पड़ा|

दरअसल विश्वविद्यालय में बीए चतुर्थ सेमेस्टर का पेपर था| भूगोल विषय के इस पेपर को यूनिवर्सिटी के कर्ताधर्ता समय रहते प्रिंट नहीं करवा पाए| नतीजतन, सादे कागज़ में प्रश्नों को हाथ से लिखकर उसकी फोटोकॉपी करवाई गई| विद्यार्थी तब चौंक गए, जब ए-4 से भी आधी साइज का हाथ से लिखा हुआ पेपर उनके हाथ आया| पेपर की फोटोकॉपी तक सही से नहीं की गई थी, जिससे प्रश्न भी धुंधले दिख रहे थे| अक्षर इतने कटे हुए थे कि छात्रों को इसको समझने में भी परेशानी आ रही थी| इस विषय में जब उन्होंने पर्यवेक्षक से पूछा तो पर्यवेक्षकों ने बड़ी आसानी से कह दिया कि हम कुछ नहीं कर सकते| इसी पेपर से परीक्षा से पेपर देना होगा|

डीएवीवी में पहले भी परीक्षा और रिजल्ट में हुई देरी से छात्रों के बीच नाराज़गी देखी गई  और अब यूनिवर्सिटी की इस लापरवाही से छात्रों में आक्रोश व्याप्त है|

Share.