Indore News : जांच के लिए अन्य शहरों का मुंह नहीं ताकना पड़ेगा

0

स्वास्थ्य सेवा के क्षेत्र में इंदौर निरंतर सफलता की नई ऊंचाइयों को छू रहा है| यहां स्थित अस्पतालों में विश्वस्तरीय सुविधाएं उपलब्ध हैं| अब इंदौर शहर में एक और नई सुविधा प्रारंभ की जा चुकी है| इस सुविधा के शहर में शुरू होने से अब जांच (Swine Flu Government First Investigated In Indore ) के लिए मरीजों को अन्य शहरों का मुंह नहीं ताकना पड़ेगा|       

दरअसल, इंदौर में पहली बार स्वाइन फ्लू की जांच (Swine Flu Government First Investigated In Indore ) करवाई गई है| सेंट्रल लैब में स्वाइन फ्लू की जांच का यह सेटअप यशवंत प्लाजा में तैयार किया गया है।

इस खबर से इंदौर में ही समय पर बेहतर इलाज मिल सकेगा| अब तक स्वाइन फ्लू के सैंपल जांच के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा भोपाल लैब भेजे जाते थे, जहां से तीन से सात दिन में रिपोर्ट आती थी। ऐसे में तब तक लक्षण के आधार पर अंदाज से ही उपचार होता था। शहर में की गई स्वाइन फ्लू की जांच के लिए दोपहर में सैंपल भेजा था और शाम तक रिपोर्ट भी आ गई। सरकार ने स्वाइन फ्लू की जांच के लिए शहर में सेंट्रल लैब को अनुबंधित किया है।

शहर के तीन प्रमुख अस्पतालों से सोमवार को यहां एच1एन1 के नमूने भेजे गए|    इनमें से एक रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। स्वास्थ्य विभाग भोपाल की सरकारी लैब की रिपोर्ट के पॉजिटिव मरीजों को दर्ज करता है। अब तक विभाग के रिकॉर्ड में 50 पॉजिटिव मरीज आ चुके हैं। इनमें से 16 मरीजों की मौत हो चुकी है।

स्वाइन फ्लू की जांच के लिए इस लैब में ऑटोमेटेड मशीन का उपयोग किया जा रहा है। लैब संचालक डॉ. विनीता कोठारी ने बताया, “यहां बायोसेफ्टी लेवल-3 का पालन किया जा रहा है। एक बार में 12 सैंपल की जांच की जा सकती है। हमारे पास सबसे आधुनिक मशीन है। जांच के लिए मानक स्तर के रिएजेंट का उपयोग कर रहे हैं, जो सेंटर फॉर डिसीज़ यूएसए से प्रमाणित है। जांच करने वाले को इस लैब में अलग से पूरे शरीर को ढंकना नहीं पड़ता है। सिर्फ ग्लव्स और मास्क का इस्तेमाल करना होता है।

जानें जांच की प्रक्रिया 

सबसे पहले अस्पताल से आए सैंपल को कांचनुमा कैबिनेट से ढंकी मशीन में डाला जाता है। इस मशीन की खासियत यह है कि इस कैबिन से एच1एन1 वायरस बाहर नहीं निकल सकता।  दूसरी मशीन में रिएजेंट के लिए आधे घंटे बाद सैंपल भेजते हैं। मशीन में वायरस अपने आप किल हो जाता है।  तीसरी मशीन में सैंपल कई चरणों में आगे बढ़ता हुआ ऑटोमैटिक कम्प्यूटराइज्ड रीडिंग दे देता है।

मदद के बदले मिली मौत

Sandeep Agrawal Murder Case : संदीप हत्याकांड का फरार आरोपी गिरफ्तार

Indore Crime News : 25 करोड़ की ब्लैकमेलिंग में गिरफ्तार इंदौर का युवक

अंकुर उपाध्याय

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.