मंदसौर दुष्कर्म मामले में फ़ैल रहीं अफवाहें

0

मंदसौर की दुष्कर्म पीड़िता बच्ची इंदौर के एमवाय अस्पताल में भर्ती है, जहां से उसके इलाज की पल-पल की जानकारी प्रदेश सरकार को दी जा रही है| अस्पताल में पीड़ित बच्ची का मेडिकल बुलेटिन जारी कर बताया गया कि बच्ची की हालत में धीरे-धीरे सुधार हो रहा है, वहीं सोशल मीडिया पर कई अफवाहें भी उड़ाई जा रही हैं|

सोशल मीडिया पर फ़ैल रही अफवाहों के कारण इंदौर के कलेक्टर निशांत वरवड़े ने लोगों से अपील की है, “एमवाय में उपचारार्थ बिटिया के स्वास्थ्य को लेकर किसी तरह की अफवाहों पर ध्यान नहीं दें, बल्कि इसका प्रतिकार करें| वह स्वस्थ है|”

गौरतलब है कि शनिवार को अस्पताल की ओर से बुलेटिन जारी किया गया, जिसमें कहा गया है कि बच्ची पूरी तरह स्वस्थ है| दो विशेषज्ञ,  जिनमें एक गायनकोलॉजिस्ट और पीडियाट्रिक सर्जन है, एमवाय अस्पताल में बच्ची की सतत जांच कर रहे हैं| उन्हें बाहर से बुलाया गया है| उन्होंने कहा कि 2 सप्ताह में बच्ची पूरी तरह स्वस्थ हो जाएगी|

प्रशासन द्वारा घोषणा की गई है कि बच्ची की तमाम जिम्मेदारी सरकार उठाएगी| इस बात की पुष्टि कलेक्टर निशांत वरवड़े ने की| उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने बच्ची के नाम से 10 लाख की एफडी करवाने का आदेश मंदसौर के कलेक्टर को दिया है| बच्ची की पढ़ाई, नौकरी और शादी की जिम्मेदारी भी सरकार की ही होगी|

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी इस घटना पर दुःख जताते हुए एक ट्वीट किया है –

वहीं ज्योतिरादित्य सिंधिया भी आज इंदौर में इस घटना के विरोध में रैली निकालने की तैयारी कर रहे हैं|

Share.