HDFC के नए क्रेडिट कार्ड पर रोक, वजह यहां देखें

0

भारतीय रिजर्व बैंक ने एचडीएफसी बैंक पर सख्त कार्रवाई करते हुए बैंक में इंटरनेट की बार-बार होने डाउन रहने की कड़ी सजा दी है.आरबीआई ने नए क्रेडिट कार्ड ग्राहकों की साइनिंग-अप पर और आगे की सभी डिजिटल गतिविधियों पर रोक लगा दी है.रिजर्व बैंक ने कहा है कि एक बार जब वह संतुष्ट हो जाएगा कि नियामक और जवाबदेही के मसलों को हल कर लिया गया है तो ये रोक हटा ली जाएगी.

गौरतलब है कि पिछले दो साल कई बार एचडीएफसी बैंक कि डिजिटल सिस्टम के ठप पड़ने या डाउन होने की शिकायतें आयी थीं. निजी क्षेत्र के दिग्गज एचडीएफसी बैंक की डिजिटल सेवाएं हाल में 21 और 22 नवंबर को कई घंटे तक बाधित रहने पर भारतीय रिजर्व बैंक ने सफाई मांगी थी.बताया जाता है कि एचडीएफसी के डेटा सेंटर में समस्या की वजह से करीब 12 घंटे तक बैंक की यूपीआई, एटीएम और डेबिट/क्रेडिट कार्ड सेवाएं पूरी तरह से बाधित रहीं. बैंक के ग्राहकों को पिछले दो साल में तीसरी बार इस समस्या का सामना करना पड़ा .एचडीएफसी बैंक ने स्टॉक एक्सचेंजों को बताया है, ‘रिजर्व बैंक ने यह सलाह दी है कि Digital 2.0 के तहत प्लान की गयी सभी डिजिटल बिजनेस गतिविधियों और प्रस्तवित आईटी अप्लीकेशन तथा नए क्रेडिट कार्ड ग्राहकों की सोर्सिंग को रोक दिया जाए.’

समस्या हर रोज आने तक-
Digital 2.0 के तहत प्लान की गयी सभी डिजिटल बिजनेस गतिविधियों और प्रस्तावित आईटी अप्लीकेशन पर रोक.
2. नए क्रेडिट कार्ड ग्राहक बनाने पर रोक

रिजर्व बैंक ने यह भी कहा है कि बैंक के बोर्ड को इन खामियों की जांच करनी होगी और जवाबदेही तय करनी होगी. दूसरी तरफ, बैंक का कहना है कि उसने हाल में डिजिटल बैंक चैनलों के डाउन होने की घटनाओं के बाद उपचार के लिए ठोस कदम उठाये हैं.

Share.