रमेश मेंदोला से प्रदेश नेतृत्व की आस

0

प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान एक बार फिर जनता का आशीर्वाद लेने निकलेंगे| मुख्यमंत्री की यह ‘जन आशीर्वाद यात्रा’ 14 को उज्जैन से शुरू होकर प्रदेश के सभी 51 जिलों में पहुंचेगी| इस यात्रा के जरिए जहां प्रदेश की जनता को मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान अपनी सरकार के कार्य गिनाएंगे, वहीँ उज्जैन में इस यात्रा का आगाज़ एक बड़ा राजनीतिक शक्ति प्रदर्शन भी होगा|

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह इस यात्रा को हरी झंडी दिखाएंगे| शिवराज की कोशिश है कि इस यात्रा का प्रारब्ध ही इतना जोरदार हो कि खुद अमित शाह को भी लगे, कि प्रदेश में भाजपा को भले ही कमजोर माना जा रहा हो, लेकिन शिवराज में अभी भी दम है| इसी लक्ष्य को लेकर अब शिवराजसिंह चौहान ने अपने नेताओं को उज्जैन में कार्यकर्ताओं की भीड़ जुटाने का भी लक्ष्य दिया है|

उज्जैन में 1 लाख कार्यकर्ताओं को जुटाने का लक्ष्य लेकर चलने वाले शिवराज ने एक बार फिर इंदौर के नेताओं पर ही भरोसा जताया है| ये बात खुद शिवराजसिंह चौहान भी जानते हैं कि इंदौर में क्षेत्र क्रमांक 2 के नेता ही ऐसे हैं जो किसी भी सफल आयोजन का संचालन करना जानते हैं|  यही कारण है कि शिवराजसिंह चौहान ने इस आयोजन में भीड़ लाने के लिए सबसे ज्यादा विधायक रमेश मेंदोला पर विश्वास जताया है|

आयोजन की तैयारियों की जिम्मेदारी राज्यसभा सांसद और भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा पर है| झा ने इंदौर के सभी नेताओं को बसों के माध्यम से लोगों को उज्जैन ले जाने का लक्ष्य दिया है, लेकिन इसका सबसे बड़ा लक्ष्य रमेश मेंदोला के पास ही है| झा ने मेंदोला को 200 बसें भरकर उज्जैन कार्यकर्ताओं को ले जाने का टारगेट दिया है| इसके अलावा इंदौर के दूसरे विधायकों को 100 या 50 बसों की ही जिम्मेदारी है|

वहीँ प्रदेश के दूसरे क्षेत्रों से भी नेता अपने कार्यकर्ताओं और क्षेत्रीय लोगों को लेकर आएंगे| ऐसे में रमेश मेंदोला अपने लक्ष्य को आसानी से ही पूरा कर सकते हैं| यदि उज्जैन में अपार जनसमूह इस यात्रा के मौके पर उमड़ता है तो उसमें रमेश मेंदोला का प्रभाव ही नज़र आएगा| ये टारगेट आगामी चुनाव में टीम रमेश मेंदोला को और भी मजबूत करेगा|

-पॉलिटिकल डेस्क

Share.