आकाश के बाद कैलाश विजयवर्गीय का निगम पर हमला

0

कुछ दिन पूर्व इंदौर में हुए बल्लेकांड (Balla kand ) का शोर अभी शांत भी नहीं हुआ कि अब नगर निगम (Indore Municipal Corporation ) पर फिर से हमला हो गया। कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya) के विधायक पुत्र आकाश विजयवर्गीय ( MLA Akash Vijayvargiya ) ने नगर निगम के कर्मचारी की बल्ले से पिटाई कर दी थी। इसके बाद विधायक को जेल भेजा गया। अब जब भाजपा (BJP ) के महासचिव के विधायक पुत्र की जमानत हो गई और वे जेल से बाहर आ गए तो कैलाश विजयवर्गीय ने इंदौर नगर निगम पर टिप्पणी करते हुए निशाना साधा।

भूख हड़ताल पर बैठी महिला

निगम के आयुक्त कच्चा खिलाड़ी

कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya)  ने आकाश विजयवर्गीय  ( MLA Akash Vijayvargiya ) के साथ ही निगम के आयुक्त आशीष सिंह को कच्चा खिलाड़ी करार दिया है। इसके साथ ही उन्होंने अपने कार्य का भी बखान किया। उन्होंने कहा , “ये बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है। मुझे लगता है आकाश और नगर निगम के कमिश्नर दोनों पक्ष कच्चे खिलाड़ी हैं। यह एक बड़ा मुद्दा नहीं था, लेकिन इसे बहुत बड़ा बना दिया गया। मुझे लगता है कि अधिकारियों को अहंकारी नहीं होना चाहिए, उन्हें जनप्रतिनिधियों से बात करनी चाहिए। मैंने इसकी कमी देखी है। दोनों को समझना चाहिए, ताकि ऐसी घटना दोबारा न हो।”

Video : नगर निगम अधिकारी की पिटाई का कारण बना मकान कल टूटेगा

कमलनाथ सरकार पर साधा निशाना

विजयवर्गीय ने आगे कहा, “मैं पार्षद, मेयर और विभागीय मंत्री रहा हूं। हम बारिश के दौरान किसी भी आवासीय भवन को ध्वस्त नहीं करते हैं।  मुझे नहीं पता कि सरकार ने इस मामले में कोई आदेश जारी किया था, अगर ऐसा हुआ है, तो यह उनकी ओर से गलती है। अगर कोई बिल्डिंग गिराई गई, तो उसके निवासियों के लिए एक ‘धर्मशाला’ में रहने की व्यवस्था की जाती है। नगर निगम ने इस मामलों को ठीक से नहीं सम्भाला। मौके पर महिला स्टाफ और महिला पुलिस होनी चाहिए थी। यह अपरिपक्व कदम था, ऐसा दोबारा नहीं होना चाहिए।”

वहीं घटना के बाद आकाश विजयवर्गीय ने कहा था कि यह तो शुरुआत है, हम इस भ्रष्टाचार और गुंडाराज को समाप्त करेंगे। आवेदन, निवेदन और फिर दना दन। यह हमारा लाइन ऑफ एक्शन है। जेल से रिहा होने के बाद उन्होंने कहा, “मुझे किसी तरह का पछतावा नहीं है। उस वक्‍त की जो परिस्थितियां थीं, उसके अनुसार मैंने वही किया जो सही था।”

इंदौर बैटकांड : आकाश ने जिसे मारा बल्ला, वह अधिकारी ICU में भर्ती

Share.