आईडीए को किया कटघरे में खड़ा

0

मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनाव का माहौल धीरे-धीरे गर्मा रहा है| इस बीच हर वर्ग को शासन की वादाखिलाफी भी याद आ रही है| इसी कड़ी में इंदौर में युवा किसान सेना से जुड़े कार्यकर्ताओं ने इंदौर विकास प्राधिकरण पर प्रदर्शन किया| किसान सेना के पदाधिकारियों ने जिम्मेदारों पर वादाखिलाफी का आरोप लगाया है | किसान नेताओं का कहना है कि आईडीए ने अलग-अलग स्कीमों को लागू करने में लापरवाही की है, जिससे किसान परेशान हैं|

नहीं मिले विकसित भूखंड

किसान नेताओं ने प्रदर्शन के दौरान आरोप लगाया कि आईडीए ने पिछले 5 साल में उन किसानों के हित में कोई निर्णय नहीं लिया, जिनकी जमीनों का अधिग्रहण कर स्कीम डेवलप करने की बात कही गई थी| इन स्कीमों में 169 ए, 169 बी, 165, 171, 172, 173 और 175 शामिल हैं|

विकास विरोधी नहीं है किसान

युवा किसान सेना के जिलाध्यक्ष रवि चौधरी ने बताया कि किसान विकास विरोधी नहीं है| आईडीए वादाखिलाफी कर रहा है, हर बार आश्वासन मिल रहे हैं, जिससे किसान परेशान हैं| आईडीए किसानों को फर्जी पत्र भी सौंप चुका है| किसानों के साथ किया वादा आईडीए को पूरा करना चाहिए| अधिग्रहण के बदले विकसित भूखंड दिए जाने चाहिए|

अधूरी योजनाएं हैं रोड़ा

आईडीए अधिकारी एसएस राठौर ने किसानों के आंदोलन के बाद कहा कि पूरे मामले में गतिरोध यह है कि आधी अधूरी योजनाओं को विकसित नहीं किया जा सकता है|

Share.