Indore : मासूम और उसकी मां की ट्रेन की चपेट में आने से दर्दनाक मौत

0

इंदौर(Indore Train Accident) शहर के रावजी बाजार थाना क्षेत्र में बुधवार रात तकरीबन 9 बजे एक महिला और उसके 8 वर्षीय मासूम बच्चे की ट्रैन की चपेट में आ जाने से मौत हो गई। इस दर्दनाक हादसे के बारे में परिवार का कहना है कि बच्चा खेलते-खेलते रेलवे ट्रैक पर पहुंच गया था। जब महिला ने ट्रैक पर ट्रेन को आते हुए देखा तो वह बच्चे को बचाने के लिए दौड़ पड़ी, लेकिन इसी दौरान वह अपने मासूम बच्चे के साथ तेज रफ़्तार ट्रेन की चपेट में आ गई। ट्रेन की रफ़्तार काफी तेज थी और ट्रेन की टक्कर लगने से मां-बेटे की मौत हो गई।

जीतू सोनी के तीन होटल और मकान पर चला बुलडोजर

इस दर्दनाक हादसे के बाद पुलिस को सूचना दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने मां-बेटे के शव को कब्जे में लेकर उन्हें एमवाय अस्पताल पोस्टमार्टम के लिए भेजा। इस मामले में रावजी बाजार थाना टीआई सुनील गुप्ता (Suneel Gupta) ने जानकारी दी कि, बीके हरिजन कॉलोनी निवासी शारदा (32) पति सोनू और उसके बेटे आयुष (8) के शव को पोस्टमार्टम के लिए एमवाय अस्पताल(Indore News) भेज दिया गया है। रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। टीआई गुप्ता ने कहा कि इस घटना की पूरी जांच करवाई जाएगी।

Indore : जीतू सोनी के होटल ‘माय होम’ पर चला बुलडोजर

INDORE : फरार जीतू सोनी के नाम पर इनाम

इस घटना को लेकर परिवार के सदस्य सावन पंवार ने बताया कि जिस वक़्त शारदा और उसका बेटा हादसे का शिकार हुआ उस वक़्त परिवार के सदस्य खाना लेने गए हुए थे। उसने कहा कि इस दौरान आयुष खेल-खेल में रेलवे ट्रैक पर जा पंहुचा। जैसे ही शारदा ने देखा कि रेलवे ट्रेक पर तेज रफ़्तार ट्रेन आ रही है तो वह आयुष को बचाने के लिए दौड़ी। लेकिन जब तक शारदा ट्रेक पर पहुंचती तब तक आयुष ट्रेन(Indore Train Accident) की चपेट में आ चुका था। आयुष को बचाने के चक्कर में शारदा भी ट्रेन से टकरा गई और दोनों की मौके पर ही मौत हो गई। इसके बाद घर की बुजुर्ग राजूबाई ने इस बात की जानकारी कॉलोनी के लोगों को दी तो सभी लोग मौके पर पहुंचे। इसके बाद पुलिस को सूचित किया गया। वहीं परिवार के सदस्य सावन का कहना है कि रेलवे ट्रैक पर एक तरफ तो बाउंड्रीवॉल है लेकिन दूसरी तरफ का हिस्सा खुला हुआ है। इस लेकर कॉलोनी वाले कई बार शिकायत भी कर चुके हैं लेकिन अभी तक कोई भी कार्रवाई नहीं की गई है। इससे पहले भी कॉलोनी के लोगों की जान ट्रेन की चपेट में आ जाने से जा चुकी है।

Prabhat jain

Share.