9 दिन बाद मनी सेंटर की 5 दुकानों के ताले खुले  

0

इंदौर विकास प्राधिकरण ने स्कीम नंबर 71 स्थित बहुचर्चित मनी सेंटर की 55 दुकानों में से 5 दुकानों के ताले खोल दिए हैं| दुकानों के सील लगे ताले खोलने की कार्रवाई सोमवार दोपहर के समय की गई|  9 दिन पहले आईडीए ने सभी दुकानों को अपने कब्जे में लिया था, जिन दुकानदारों को आईडीए ने हाईकोर्ट के आदेश पर पंचनामा बनाकर दुकानें सौंपी, उनके चेहरों की ख़ुशी देखने लायक थी| हालांकि इस दौरान वे दुकानदार मायूस नज़र आए, जिनकी दुकानों को लेकर अभी फैसला आना है |

इन दुकानदारों को मिली राहत

मनी सेंटर के जिन दुकानदारों को हाईकोर्ट से मिले स्टे के बाद राहत मिली है, उनमें दो दुकानों में रेडीमेड कपड़ों का व्यवसाय  हो रहा है साथ ही डॉ. अंकित कोठारी और डॉ. आर्विक जैन के क्लिनिक के अलावा कन्हैया खेड़ा की नेहा ऑप्टिकल्स की शामिल है| आईडीए ने जिस समय दुकानों के सील लगे ताले खोलने की कार्रवाई की, उस दौरान दुकानदारों अपने साथ खड़ा रखा और पंचनामा तैयार कर दुकानें सौंपी| इस दौरान वे सभी दुकानदार भावुक नज़र आए, जिन्हें दुकानें सौंपी गई | दुकानदारों ने पहले अपनी दुकान को प्रणाम किया और इसके बाद भीतर कदम रखा| जिन दुकानदारों को कोर्ट से राहत मिली है, उनका कहना है कि कोर्ट से अन्य दुकानदारों को भी जल्द राहत मिल जाए, जिससे मनी सेंटर में चलने वाला व्यापार जल्द पटरी पर आ सके|

मनी सेंटर में कुल 55 दुकानदार व्यवसाय कर रहे थे, 50 दुकानें अभी भी आईडीए के कब्ज़े में है| ये सभी व्यापारी कोर्ट के आदेश का इंतज़ार कर रहे हैं| व्यापारी सूर्यप्रकाश मालवीया ने बताया कि हमारी पीटिशन कोर्ट में विचाराधीन है| हम सभी प्रकार के टैक्स भरते हैं| दुकान पर लोन भी है, जिसे भरना बाकी है|

कोर्ट के आदेश पर खोले ताले

इंदौर विकास प्राधिकरण के भू-अर्जन अधिकारी राजकुमार हलदर ने बताया कि मनी सेंटर की 5 दुकानों के ताले हाईकोर्ट से मिले आदेश के बाद खोले गए हैं| अन्य दुकानदारों को लेकर कोर्ट की ओर से किसी तरह के कोई निर्देश नहीं मिले हैं|

 

Share.