कैलाश विजयवर्गीय: बताइये शिवसेना में शकुनि मामा कौन है?

0

इंदौर:  भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party)के दिग्गज नेता कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya) ने महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की राजनीतिक समझ की तारीफ की। उन्होंने ट्वीट में लिखा “श्री अमित शाह (Amit Shah) जी को राजनीति का चाणक्य यूं ही नहीं कहा जाता। ‘जो जीता वही सिकंदर’। महाराष्ट्र को राष्ट्रीय भावना वाली एवं विकासोन्मुख सरकार देने के लिये अमित शाह जी को प्रणाम”। इतना ही नहीं, महाराष्ट्र (Maharashtra Politics Live Updates) में शिवसेना की स्थिति पर कैलाश विजयवर्गीय ने पूछा कि “महाभारत में शकुनि मामा ने कौरवों को समाप्त करवा दिया था। बताइये शिवसेना में शकुनि मामा कौन है???” बता दें कि एक बेहद ही नाटकीय घटनाक्रम के तहत शनिवार सुबह बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के नेता अजित पवार ने उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ली।

फडणवीस की शपथ के बाद मोदी का राउत पर तंज

भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय(National General Secretary Kailash Vijayvargiya) सुबह ट्वीट में लिखा- फिर भाजपा, महाराष्ट्र में अंतत: वहीं हुआ जो तय था। भाजपा कभी हार नहीं मानती और पीएम नरेंद्र मोदी और अमित शाह की रणनीति ने ये साबित भी कर दिया। मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और उप-मुख्यमंत्री (Maharashtra Politics Live Updates) अजीत पवार को बधाई। कैलाश विजयवर्गीय ने यह भी ट्वीट किया कि आधी छोड़ साजी को धावे, आधी मिले न पूरी पावे। ना खुदा ही मिला ना विसाले सनम…।

हालांकि, शुक्रवार की रात तक यही खबरें थीं कि उद्धव ठाकरे (Udhav Thackeray)को महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री बनाने पर कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी राजी हो गई है। लेकिन, आज महाराष्ट्र की पूरी सियासत की तस्वीर ही बदल गई। शपथ ग्रहण के बाद मीडिया से बात करते हुए मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा, ‘महाराष्ट्र की जनता ने स्पष्ट जनादेश दिया था। हमारे साथ लड़ी शिवसेना ने उस जनादेश को नकार कर दूसरी जगह गठबंधन बनाने का प्रयास किया। महाराष्ट्र को स्थिर शासन देने की जरूरत थी। महाराष्ट्र को स्थायी सरकार देने का फैसला करने के लिए अजीत पवार को धन्यवाद।’

Maharashtra Live : महाराष्ट्र में बीजेपी के साथ एनसीपी की सरकार

वहीं, उपमुख्यमंत्री की शपथ लेने के बाद अजित पवार(Ajit Pawar) ने कहा कि “24 अक्टूबर को रिजल्ट आया। तब से अभी तक कोई भी सरकार बना नहीं सका। महाराष्ट्र में कई परेशानियां हैं, ज्यादा तो किसानों की परेशानियां हैं। वो हल करने के लिए लोगों द्वारा चुनी गई सरकार आती है तो उससे निर्णय जल्द लिए जा सकते हैं। इसीलिए हमने भाजपा के साथ सरकार बनाने का फैसला किया है।

चाचा शरद पवार से बागी हुए अजित पवार, बना ली बीजेपी के साथ सरकार

-Mradul tripathi

Share.