website counter widget

मीडिया पर भड़के कैलाश विजयवर्गीय!

0

भाजपा के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya) अपने विधायक पुत्र आकाश (Akash Vijayvargiya) के बल्लेकांड के बाद से ही मीडिया से दूरियां बनाकर बैठे हैं। आकाश के काण्ड के बाद एक निजी न्यूज चैनल ने उनसे घटना के बारे में सवाल किये थे तो उन्होंने उस चैनल के एंकर से कहा था कि अपने औकात में रहो , इस मामले के बढ़ने के बाद से ही वे मीडिया से छिपते रहे, लेकिन अब फिर उनका मीडिया से सामना हो गया, इसके बाद उन्होंने कहा कि मुझे छोड़ दो।

24 घंटे में इंदौर में 5 इंच वर्षा रिकॉर्ड

मुझे छोड़ दो

जानकारी के अनुसार, भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya)  ने आज मीडिया से साफ शब्दों में कहा कि अब आप मुझे तो छोड़ दो। भाजपा के सदस्यता अभियान की शुरूआत करने और पंडित श्यामा प्रसाद मुखर्जी का स्मरण करने के लिए मुखर्जी की प्रतिमा पर आयोजित किए गए समारोह में भाग लेने के लिए विजयवर्गीय पहुंचे थे। वे जब कार्यक्रम से लौट रहे थे तो मीडिया के लोगों ने उनसे बात करने की कोशिश की। सभी उनके बेटे के बारे में सवाल कर रहे थे। कैलाश विजयवर्गीय भी इस बात को अच्छी तरह से जानते थे। इसके साथ ही उन्हें इस बात का भी अंदाजा है कि इस नाजुक स्थिति में बात करने से बात कितनी बिगड़ जाती है। इसीलिए उन्होंने कहा कि अब आप मुझे तो छोड़ दो। अभी मेरे पास कहने के लिए कुछ नहीं है। इतना कहकर वे तेजी से अपनी कार की और चले गए।

पीएम मोदी इंदौर महापौर मालिनी गौड़ से मांगे इस्तीफ़ा – कांग्रेस

पीएम मोदी हैं खफा

विधायक आकाश विजयवर्गीय ने जर्जर हो चुके मकान को ढहाने गए नगर निगम के कर्मचारी की बल्ले से पिटाई कर दी थी। इसके बाद जब यह मामला भाजपा के आलाकमान तक पहुंचा तो आकाश और उनके समर्थन में खड़े सभी नेताओं और मंत्रियों को फटकार लगी थी। वहीँ पीएम मोदी ने भी इस मामले पर कार्रवाई करने के निर्देश दिए थे। इसके बाद कैलाश विजयवर्गीय ने कहा था कि मोदीजी परिवार के मुखिया और पिता तुल्य हैं, उनकी कही बात में भी अपनापन छुपा है। विजयवर्गीय ने कहा, भाजपा एक परिवार है। भाजपा सबसे अनुशासित पार्टी है। इसमें यदि किसी से कोई गलती होती है तो पिता और मुखिया का अधिकार होता है कि वो डांटे, कुछ कहे या फटकार लगाए।

आकाश के खिलाफ इस बीजेपी नेता ने उगला ज़हर

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.