इंदौर की सरपंच ने बनाया गांव को नंबर 1

0

जहां एक ओर देश और शहर में बढ़ते अपराधों से मन विचलित है वहीं इंदौर के पास के गांव में महिला सरपंच ने अपनी मेहनत और लगन से उस गांव को देश का सर्वश्रेष्ठ गांव बना दिया है| इंदौर के समीप स्थित कोदरिया गांव की सरपंच अनुराधा जोशी ने सेनेटरी पैड बनाने के लिए अपना घर दे दिया और यही नहीं उन्होंने इस गांव की पंचायत को देश की सबसे अच्छी पंचायत बनाने का सफ़र भी तय किया|

केंद्रीय पंचायत ग्रामीण विकास मंत्रालय ने देशभर की पंचायतों का लेखा-जोखा मंगवाया था| विभाग ने जांच की तो पता चला कि वास्तव में कितना काम हो रहा है| इस जांच के बाद ही महू की कोदरिया पंचायत को राष्ट्रीय अवॉर्ड देने की घोषणा आज की गई | इसका ऐलान होते ही अनुराधा जोशी को बधाइयां देने का सिलसिला शुरू हो गया है | कोदरिया और वहां की सरपंच के बारे में यह जानने को मिला कि जोशी ने काम किए, नए कामों की पहल की, तभी गांव को यह सम्मान मिला|

हाल ही में सेनेटरी पैड बनाने के लिए जोशी ने प्रयास किए तो उन्हें कई प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ा| कोदरिया के जिस सरकारी भवन में ट्रेनिंग चलती थी, उस भवन में सेनेटरी पैड बनाने का काम शुरू करने से लोगों ने मना कर दिया| सरपंच के गांव के घर में कोचिंग क्लास चल रही थी, जिससे उन्हें 10 हज़ार रुपए किराये के तौर पर मिलते थे| सरपंच अनुराधा जोशी ने वह कोचिंग क्लास खाली करवाई और वहां सेनेटरी पैड बनाने का काम शुरू करवा दिया| अब यह काम वहां लगातार हो रहा है|

जोशी ने बताया कि वे अभी तक 40 महिलाओं को पैड बनाने की ट्रेनिंग दे चुकी हैं| ये महिलाएं पैड बनाकर नाममात्र के दाम में बेच रही हैं| गांव में 70 फीसदी महिलाएं पैड के उपयोग का महत्व नहीं समझती हैं| ये महिलाएं गांव की औरतों को इस मामले में जागरूक करने का काम भी करती हैं| गांव में आरओ पानी का प्लांट लगा हुआ है, जहां मात्र 50 पैसे में एक लीटर पानी मिलता है| गांव के हर घर में आरओ का पानी पहुंचाने के लिए गाड़ी बनवाई गई है|

23 मार्च 2015 को सरपंच बनी अनुराधा जोशी बताती हैं कि जब उन्होंने काम संभाला था तो कोदरिया के 3600 मकानों और दुकानों से सिर्फ 445 रुपए टैक्स मिलता था| अब 32 लाख रुपए टैक्स मिलता है| देश में नोटबंदी का फायदा उठाते हुए उन्होंने बकाया 4 लाख रुपए का टैक्स वसूला| बीएससी फर्स्ट ईयर पास अनुराधा गांव को और आगे बढ़ने की ओर अग्रसर हैं| गौरतलब हो कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 24 अप्रैल को मंडला में सरपंच अनुराधा जोशी को पुरस्कार देंगे|

Share.